राहुल का केंद्र सरकार पर हमला, GDP को बताया गिरती अर्थव्यवस्था की वजह

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी एक बार फिर से मोदी सरकार पर हमला बोला है हालांकि इस बार भी कोई नया मुद्दा नही है लेकिन जीडीपी और कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को लेकर यह हमला कांग्रेस पार्टी की तरफ से किया गया है। राहुल गांधी ने अपने हमले के दौरान मोदी सरकार की तुलना शुतुरमुर्ग से की और कहा कि देश को संकट में डालकर मोदी सरकार शुतुरमुर्ग की तरह भाग जाती है। राहुल गांधी ने एक ट्वीट कर लिखा, “मोदी सरकार देश को संकट में पहुँचाकर समाधान ढूंढने की बजाय शुतुरमुर्ग बन कर भाग जाती है”   राहुल गांधी ने कहा कि हमारा देश हर गलत दौड़ में आगे है वह चाहे कोरोना संक्रमण हो या फिर जीडीपी की गिरावट

कांग्रेस सरकार शुरु से ही जीएसटी का विरोध करती आ रही है राहुल गाधी ने बहुत पहले ही इसे गब्बर सिंह टैक्स कहा था और इसको लेकर सरकार की आलोचना की थी। जीडीपी में बड़ी गिरावट के बाद राहुल गांधी ने एक बार फिर से सरकार पर हमला बोला है। राहुल गांधी ने कुछ दिन पहले एक वीडियो बना कर जीएसटी के नुकसान को बताया और कहाकि अर्थव्यवस्था को गिराने में इसका भी बड़ा योगदान रहा है। जीएसटी की वजह से लाखों छोटे कारोबारी बाजार से खत्म हो गये और बहुत से युवा बेरोज़गार हो गये। राहुल गाधी ने अपने वीडियो के द्वारा जनता को यह बताने की कोशिश की है कि जीएसटी की वजह से ही देश की अर्थव्यवस्था बिगड़ी है।

राहुल गांधी ने जीएसटी को लेकर मोदी सरकार पर फिर से सूट-बूट की सरकार का आरोप लगाया और कहा कि यह सरकार सिर्फ कुछ उद्योगपतियों के लिए काम करती है। राहुल ने कहाकि मोदी सरकार ने सभी से कहा था कि जीएसटी बिल्कुल आसान है और यह सभी के लिए फ़ायदेमंद होगा जबकि सच्चाई यह है कि बड़े उद्योगपतियों के लिए यह आसान है क्योंकि उनके पास इसको मैनेज करने करने के लिए एक एकाउंटेंट होता है जबकि गरीब और छोटे व्यापारी खुद से यह सब करना चाहता है लेकिन यह उनकी समझ से बाहर होता है। राहुल ने निजीकरण को लेकर भी मोदी सरकार पर हमला बोला और कहा कि देश के युवा बेरोजगार हो रहे है।

कांग्रेस की तरफ से राहुल गांधी विपक्ष की भूमिका हमेशा निभाने के लिए तैयार रहते है लेकिन उनकी बात और तर्क लोगों की समझ से परे होता है और फिर राहुल गांधी के बयान का मज़ाक बना लिया जाता है। सोशल मीडिया पर भी कई बार राहुल गांधी को उनके बयानों के चलते ट्रोल किया गया था इसके साथ ही अलग अलग लोगों ने राहुल के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस को एक कमजोर विपक्ष बताया है क्योंकि अभी तक कांग्रेस का कोई भी ऐसा दांव नहीं है जिससे मोदी सरकार की पोल खुली हो या फिर वह किसी विषय को पूरी ईमानदारी के साथ जनता के सामने प्रस्तुत कर सकें हो।

आपकी प्रतिक्रिया...