भारत-चीन सम्बंधों की तनातनी

Continue Reading भारत-चीन सम्बंधों की तनातनी

चीन के साथ हमारे सम्बंध तनातनी के दौर में हैं। 1962 की सीख को ध्यान में रखते हुए अपनी सैन्य तैयारियों में न कोई कमी आनी चाहिए, न चर्चा का रास्ता बंद होना चाहिए। इतना अवश्य ध्यान में रहे कि चीन कभी भी धोखेबाजी कर सकता है।

End of content

No more pages to load