संघ प्रमुख की दो टूक नसीहत में छिपे मर्म को पहचाने

Continue Readingसंघ प्रमुख की दो टूक नसीहत में छिपे मर्म को पहचाने

इस समय देश में ज्ञानवापी मस्जिद का मुद्दा गरमाया हुआ है परंतु इस मुद्दे पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत ने गत दिवस नागपुर स्थित संघ मुख्यालय में संघ कार्यकर्ताओं  के तृतीय वर्ष शिक्षा वर्ग के समापन समारोह में जो भाषण  दिया है उसकी चर्चा कहीं अधिक हो…

मां पीतांबरा रथयात्रा ने बढ़ाया नरोत्तम मिश्र का कद

Continue Readingमां पीतांबरा रथयात्रा ने बढ़ाया नरोत्तम मिश्र का कद

मध्यप्रदेश की जनता गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र को एक सफल राजनेता के रूप में तो कई दशकों से जानती हैं परंतु उनके स्वयं के लिए धर्म और अध्यात्म हमेशा राजनीति से ऊपर रहे हैं। अध्यात्म में उनकी अटूट आस्था है ‌‌।उनकी रोजाना की दिनचर्या पूजा अर्चना से ही प्रारंभ होती…

पंजाब में आप की सुनामी से हतप्रभ हैं सभी दल

Continue Readingपंजाब में आप की सुनामी से हतप्रभ हैं सभी दल

विगत दिनों देश के जिन पांच राज्यों की विधानसभाओं के चुनाव हेतु मतदान संपन्न हुआ था उनमें पंजाब एक ऐसा राज्य था जहां शुरू से ही आम आदमी पार्टी के पक्ष में माहौल दिखाई दे रहा था और मतदान की तिथि नजदीक आते आते तो ऐसा प्रतीत होने लगा था कि पंजाब में बाकी राजनीतिक दल पहले से ही हारी हुई लड़ाई लड रहे हैं।

शीतकालीन ओलम्पिक खेलों में भी राजनीति से बाज नहीं आया चीन

Continue Readingशीतकालीन ओलम्पिक खेलों में भी राजनीति से बाज नहीं आया चीन

चीन ने एक बार फिर भारत के सामने अपनी कुटिल राजनीति का उदाहरण पेश किया है और आश्चर्य की बात यह है कि इस बार उसने अपनी कुटिल  राजनीति के लिए खेलकूद का क्षेत्र चुना है  लेकिन उसे शायद यह याद नहीं रहा कि अपने पड़ोसी देशों के साथ हमेशा…

चुनाव आयोग सख्ती करे तो निरापद हो सकते हैं चुनाव

Continue Readingचुनाव आयोग सख्ती करे तो निरापद हो सकते हैं चुनाव

देश में कोरोना की तीसरी लहर लहर आ चुकी है और वैज्ञानिक एवं चिकित्सा विशेषज्ञ यह आशंका जता रहे हैं कि  इस लहर का प्रकोप अगले दो महीनों तक बना रह सकता है । इसी बीच चुनाव आयोग ने पांच राज्यों उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर की विधानसभाओं…

सतर्क रहें तो तीसरी लहर नहीं बरपा सकेगी कहर

Continue Readingसतर्क रहें तो तीसरी लहर नहीं बरपा सकेगी कहर

भारत में कोरोना संक्रमण की रफ्तार एक बार फिर भयावह गति से बढ़ने लगी है और एक दिन में 1लाख 80000 से अधिक मामले सामने आने के बाद अब यह माना जा रहा है  कि देश में कोरोना की तीसरी लहर दस्तक दे चुकी है। दक्षिण अफ्रीका में मिला कोरोना…

प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक से क्षुब्ध है सारा देश

Continue Readingप्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक से क्षुब्ध है सारा देश

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लगभग एक माह पूर्व जब तीनों  नए कृषि कानून वापस लेने की घोषणा की थी तब यह उम्मीद की जा रही थी कि उक्त कृषि कानूनों के विरोध में लंबे समय से आंदोलन रत किसान भी प्रधानमंत्री ‌‌‌‌‌‌‌‌की विनम्रता, विशाल हृदयता और संवेदनशीलता का सम्मान करते…

हादसा मुआवजा और जांच का अंतहीन सिलसिला !

Continue Readingहादसा मुआवजा और जांच का अंतहीन सिलसिला !

जम्मू कश्मीर में स्थित वैष्णो देवी मंदिर में नए साल के पहले दिन की पूर्व रात्रि में हुए हृदय विदारक हादसे में 13 श्रद्धालुओं की दुखद मृत्यु हो गई और लगभग इतने ही लोग घायल हो गए। यह हादसा उस समय हुआ जब भीड में शामिल कुछ युवकों के बीच…

तीसरी लहर अवश्यंभावी है तो अभी से सचेत हो जाएं

Continue Readingतीसरी लहर अवश्यंभावी है तो अभी से सचेत हो जाएं

लगभग एक माह पूर्व दक्षिण अफ्रीका में मिले कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रान ने अब तक  दुनिया के साठ से अधिक देशों को अपनी चपेट में ले लिया है । भारत में भी 16 से अधिक राज्यों में ओमिक्रान पांव पसार चुका है और  वहां ओमिक्रान  संक्रमण के तीन…

ममता बनर्जी के लिए दूर है दिल्ली

Continue Readingममता बनर्जी के लिए दूर है दिल्ली

इसी साल के पूर्वार्द्ध में संपन्न पश्चिम बंगाल विधानसभा सभा के चुनावों में तृणमूल कांग्रेस की शानदार विजय के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के अंदर यह महत्वाकांक्षा जाग उठी है कि अगर वे देश के विपक्षी दलों को एकजुट करने में सफल हो जाएं तो उनके लिए  पश्चिम बंगाल से…

अप्रिय विवाद का पटाक्षेप

Continue Readingअप्रिय विवाद का पटाक्षेप

कृषि कानूनों के मुद्दे पर राजग से नाता तोड़कर अकाली दल की असली मंशा यह थी कि वह खुद को पंजाब के किसानों का सबसे बड़ा हितैषी साबित कर सके। अब जबकि प्रधान मंत्री मोदी ने नए कृषि कानूनों को वापस लेने की घोषणा कर दी है तब अकाली दल को भाजपा से पुनः मित्रता करने में कोई दिक्कत होने का प्रश्न ही उपस्थित नहीं होता।

अप्रिय विवाद का पटाक्षेप

Continue Readingअप्रिय विवाद का पटाक्षेप

मोदी सरकार ने लगभग डेढ़ वर्ष पूर्व किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए तीन ऐतिहासिक कृषि कानून बनाए थे जिसका एकमात्र उद्देश्य कृषि के क्षेत्र में क्रांतिकारी सुधारों का मार्ग प्रशस्त करना था लेकिन इन कानूनों को लेकर शुरू से ही अप्रिय विवादों का सिलसिला प्रारंभ हो गया…

End of content

No more pages to load