हिंसक आंदोलन का लेखाजोखा

Continue Reading हिंसक आंदोलन का लेखाजोखा

नक्सलली आंदोलन, उसके कार्यकर्ताओं की निष्ठा, संघर्षशीलता, गरीब आदिवासियों में उनकी पैठ के साथ-साथ उसके जनविरोधी स्वरूप को समझने के लिए स्व. पत्रकार प्रकाश कोलवणकर की यह मराठी किताब उपयोगी साबित होगी।

भारतीय बाल फिल्में

Continue Reading भारतीय बाल फिल्में

2000 के दशक में तीन भारतीय फिल्मों ‘स्लम डॉग मिलियनेअर’, ‘थ्री ईडियट्स’ और ‘तारे जमीं पर’ ने राष्ट्रीय ही नहीं वरन् अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारतीय फिल्मों की पहचान को स्थापित कर दिया।

मिथक टूटा, हैट्रिक हुई, परिवारवाद खत्म

Continue Reading मिथक टूटा, हैट्रिक हुई, परिवारवाद खत्म

उत्तर प्रदेश के अलावा अन्य जिन चार राज्यों में हाल में चुनाव हुए उनमें गोवा में भाजपा को अच्छी सफलता मिली, पंजाब में अकाली गठबंधन के साथ वह सत्ता में आई।

नायिकाओं का नायक

Continue Reading नायिकाओं का नायक

65 वर्ष के अपने फिल्मी जीवन में नायिकओं की कई पीढ़ियां आईं और चली गयीं लेकिन देव आनंद नायक का रोल लगातार निभाते रहे। जीवन की सुंदरता को असीमित ऊर्जा और आनंद के साथ जीने की सबसे निराली स्टाइल का एकमात्र उदाहरण ‘देव आनंद’ जीवन के आखिरी क्षण तक ‘सदाबहार देव आनंद’ ही साबित हुए।

स्टीव जॉब्स : साहसिक बदलाव, रचनात्मक दूरदृष्टि व सहजता

Continue Reading स्टीव जॉब्स : साहसिक बदलाव, रचनात्मक दूरदृष्टि व सहजता

उनकी सोच हम सबके लिए एक प्रेरणा है जो हमारेे लक्ष्यप्राप्ति में सहायक हो सकती है। एक महान इंसान के तौर पर स्टीव जॉब्स को हमेशा याद किया जाएगा।

End of content

No more pages to load