स्वातंत्र्योत्तर काल का फैशन

Continue Readingस्वातंत्र्योत्तर काल का फैशन

भारतीय पोशाक अपने पारंपरिक तरीके और धरोहर से जुड़ाव के लिए जाने जाते है। पारंपरिक भारतीय डिज़ाइन अधिकतर प्रकृति से जुडे होते हैं। भारतीय पोशाक आरामदायक होने के साथ ही देखने में सुंदर और राजसी होते है।

गर्मियों में भी रहे कूल

Continue Readingगर्मियों में भी रहे कूल

इसी माह से गर्मी के तेवर बढ़ने शुरू हो जाएंगे, अतः हमें अपने पहनावे और खानपान के प्रति अधिक सतर्क होना पड़ेगा ताकि हम गर्मी की परेशानियों व बीमारियों से बच सकें।

बलात्कार की मानसिकता और उसका निदान

Continue Readingबलात्कार की मानसिकता और उसका निदान

रेप’ या ’बलात्कार’... एक ऐसा शब्द, जो बोलने या सुनने में तो बहुत छोटा-सा लगता है, लेकिन इसकी पीड़ा कितनी लंबी और दुखदायी हो सकती है, इसका अंदाजा सिर्फ और सिर्फ वही लगा सकती है, जिसके साथ यह बर्बरता होती है। बाकी लोग बस इसके बारे में तरह-तरह की बातें ही कर सकते हैं।

फिटनेस का बाजार

Continue Readingफिटनेस का बाजार

फिटनेस का अर्थ है पूरी तरह से स्वस्थ रहना। फिटनेस दो प्रकार की होती है- फिजिकल फिटनेस और मेंटल फिटनेस अर्थात शारीरिक स्वास्थ्य और मानसिक स्वास्थ्य। फिजिकल फिटनेस का अर्थ है शरीर का पूरी तरह से स्वस्थ रहना और बीमारियों को खुद से दूर रखना। दूसरे शब्दों में कहें, तो फिट होने का मतलब शरीर बीमारियों से बचने में सक्षम होना है।

स्टाइल का विज्ञान फैशन साइकोलॉजी

Continue Readingस्टाइल का विज्ञान फैशन साइकोलॉजी

फैशन शब्द पढ़ने या सुनने में जितना आसान प्रतीत हो रहा है, वास्तव में यह उतना आसान है नहीं। ’फैशन साइकोलॉजी’ का दायरा कपड़े और मेकअप से ज्यादा विस्तृत है।

फैशन दर्शाता है व्यक्तित्व

Continue Readingफैशन दर्शाता है व्यक्तित्व

आपकी फैशन आपके व्यक्तित्व से संबंधित होती है। वह लोगों को आपके बारे में, आपके विचारों के बारे में और आपके व्यवहारों के बारे में जानकारी देती है। फैशन किसी इंसान के व्यक्तित्व को परिभाषित करती है और ये देानों एक दूसरे के पूरक होते हैं।

End of content

No more pages to load