हिंदी विवेक : WE WORK FOR A BETTER WORLD...

दो महीने से सम्पूर्ण देश चुनावी प्रचार के आरोप-प्रत्यारोपों में डूब-सा गया था। सम्पूर्ण भारत देश की जनता जिस बात का बड़ी बेसब्री से इंतजार कर रही थी वे चुनाव परिणाम आखिर आ ही गए। सभी को चौंका देने वाले ये नतीजे हैं। भारत देश की आबोहवा में, जनता के मन में जो इच्छा पनप रही थी  वही बात देश के सामने प्रकट हुई है। नरेंद्र मोदी सरकार को ३०३ कमल दिये है। और सहयोगी एनडीए के साथ ३५४ सीटें देकर भारत की जनता ने फिर से उन्हें सत्ता पर सम्मान से विराजमान किया है। स्वतंत्र भारत के इतिहास में गैर कांग्रेसी सरकार द्वारा 272 का जादुई आंकड़ा पार करने का यह दूसरा मौका है। 1984 के बाद दूसरी बार ऐसा हुआ है कि किसी गैर-कांग्रेस दल को पूर्ण बहुमत मिल रहा है। देश की 17 हवीं लोकसभा के लिए हुए चुनावों ने देश के सामने इतिहास निर्माण किया है। कोई भी इतिहास अपने-आप नहीं निर्माण होता। इतिहास हमेशा समाज की सामूहिक इच्छाशक्ति से निर्माण होता है। समाज की ऐसी इच्छाशक्ति को जागृत करने के लिए किसी को आगे आकर समाज का नेतृत्व करना होता है। उस समाज की सामूहिक इच्छाशक्ति को प्रेरणा देना आवश्यक होता है। इसके लिए डट कर नेतृत्व करने वाला नेता सामने होना आवश्यक होता है। आज की इस विजय में नरेंद्र मोदी जैसे एक ही नेता का योगदान है इसमें कोई संदेह नहीं है।

2014 के पहले मुरझा गई भारतीय जनता पार्टी को संजीवनी देकर उसमें पुरुषार्थ जागरूक करने का जो कार्य नरेंद्र मोदी ने किया है उसके सकारात्मक परिणाम आज भाजपा कार्यकर्ताओं में दिखाई दे रहे हैं। साथ में देश की जनता के उत्साह में भी दिखाई दे रहा है। आज की यह विजय भाजपा जैसी सिर्फ एक राजनीतिक दल की विजय नहीं है। आने वाले भविष्य के संदर्भ में एक नई उम्मीद जगाने वाली विजय है। अब तक के किसी भी राजनीतिक दल में अपने संगठन के लक्ष्य एवं  उद्देश्य को साकार करने के लिए अथक परिश्रम करने वाला नरेंद्र मोदी जैसा कोई भी नेता अब तक तो  आज की राजनीतिक वायुमंडल में दिखाई नहीं दे रहा है। आज भाजपा के यशस्वी होने में सबसे बड़ा कारण यही है। इंदिरा गांधी को छोड़कर अन्य किसी भी नेता ने अपने बलबूते पर इस प्रकार से प्रचंड विजय से चुनाव जीते नहीं थे। वह करिश्मा आज  विजय पुरुष नरेंद्र मोदी ने करके दिखाया है। इसलिए यह इतिहास बनाने वाली विजय हैं।

नरेंद्र मोदी ने भारत को गठबंधन की  राजनीति से बाहर निकाला इसलिए यह विजय नरेंद्र मोदी की है। मोदी पर विश्वास जताकर देश को फिर से राजनीतिक स्थिरता देने की इच्छा रखने वाले करोड़ों भारतीय मतदाताओं की यह विजय है। यही नेता अपने संगठन को  सफलता के पायदान तक ले जाएगा इसी आत्मविश्वास से मोदी के साथ डटे रहने वाले  देश के लाखों भाजपा कार्यकर्ताओं की यह विजय है। समाज के सभी क्षेत्रों में भारत को समृद्ध बनाने के लिए विभिन्न प्रकार के सेवा कार्यों के माध्यम से भारत के विकास में योगदान देने वाले लाखों संघ स्वयंसेवकों की यह विजय है।

युद्ध में शत्रु के खेमे में अविश्वास से भरी बौखलाहट निर्माण करना यह एक रणनीति होती है। मोदी ने इस बात में बाजी मार ली। मोदी पर होने वाले तीखे हमलों, बदनामी करने वाले आरोपों इन सभी बातों का मोदी ने संगठन के लाभ के लिए उपयोग किया। विरोधियों की जहरीली बयानबाजी के कारण मोदी को ऊर्जा मिल रही थी। इसी प्रकार के शब्दों में मोदी की आज की विजय का वर्णन किया जा सकता है। यह विजय अत्यंत महत्वपूर्ण है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रचंड परिश्रम और राष्ट्र विधायक दृष्टि के कारण सम्पूर्ण देश के साथ विश्व में भी अपने कार्य का प्रभाव निर्माण किया है। परिणामस्वरूप 1999 में केंद्र में राष्ट्रीय विचारधारा की सरकार आई। 2014 और अब 2019 में भारत की सत्ता पर राष्ट्रीय विचारों की भारतीय जनता पार्टी विराजमान हुई है। इस कारण 2019 की चुनाव में मिली यह विजय कोई सामान्य विजय नहीं है। अपने आदर्शों और विशालतम धरोहर को लेकर नया भारत विश्व के सामने प्रस्तुत हो रहा है।

आदर्शों और सामर्थ्य से परिपूर्ण भारत को विश्व गुरु बनने की राह को दिशा दर्शन देने वाली यह विजय है। भारत के मतदाताओं द्वारा नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री की कुर्सी पर फिर से बैठेते देखने की प्रचंड इच्छा की यह विजय है। गत पांच सालों में नरेंद्र मोदी सरकार ने अत्यंत विश्वासपूर्ण ढंग से अपना कार्य भारतीय नागरिकों के सामने प्रस्तुत किया है। उस पर विश्वास जताने वाली यह विजय है। यह विजय सम्पूर्ण देश की है। यह विजय देश को सामर्थ्यवान बनाने की इच्छाशक्ति की विजय है। इस ऐतिहासिक विजय में सहभागी सभी घटकों का अभिनंदन और भविष्य के लिए शुभकामनाएं।

 

This Post Has One Comment

  1. सत्यवचन आपने लिखे है। मोदीजी के खिळफ की गयी निगेटिव्ह पबलीसीटी से लोगो को मतदान करणे के लिये प्रेरित किया है। एक आदमी दिन रॅट काम करता है और बाकी सब उसकी टांग खिचने और गिराने मे व्यस्त है, ये चित्र विरोधी पक्षोने दिखाया और जी रहे थे।

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu

विगत 6 वर्षों से देश में हो रहे आमूलाग्र और सशक्त परिवर्तनों के साक्षी होने का भाग्य हमें प्राप्त हुआ है। भ्रष्ट प्रशासन, दुर्लक्षित जनता और असुरक्षित राष्ट्र के रूप में निर्मित देश की प्रतिमा को सिर्फ 6 सालों में एक सामर्थ्यशाली राष्ट्र के रूप में प्रस्तुत करने में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की अभूतपूर्ण भूमिका रही है।

स्वंय के लिए और अपने परिजनों के लिए ग्रंथ का पंजियन करें!
ग्रंथ का मूल्य 500/-
प्रकाशन पूर्व मूल्य 400/- (30 नवम्बर 2019 तक)

पंजियन के लिए कृपया फोटो पर क्लिक करें

%d bloggers like this: