fbpx
हिंदी विवेक : WE WORK FOR A BETTER WORLD...

कोरोना का अंत कब होगा?

कोरोना वायरस की शुरुआत चीन के वुहान से हुई है। यह बात को करीब सभी को पता है। लेकिन अभी तक यह किसी को नहीं पता चला है कि आखिर इसकी शुरुआत कैसे हुई और इसका अंत कैसे होगा? दुनिया के बाकी देश अब चीन पर यह आरोप लगा रहे है कि चीन को पहले से ही पता था कि कोरोना वायरस पूरी दुनिया के लिए घातक साबित हो सकता है बावजूद इसके चीन ने किसी को भी इसकी खबर नहीं दी और अंत समय तक सबसे छुपाने की कोशिश करता रहा। मिडिया में पिछले महीने यह भी खबर देखने को मिली थी जिसमें चीन दावा कर रहा था कि कोरोना वायरस चीन से उत्पन्न नहीं हुआ है। हालांकि अमेरिका सहित तमाम देश चीन की कोरोना वायरस को लेकर कड़ी आलोचना कर चुके है।

पूरी दुनिया में अब तक कोरोना वायरस से 04 लाख 65 हजार 915 लोग संक्रमित हो चुके है। जबकि इससे 21 हजार 31 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं पूरी दुनिया के करीब 200 देश इसका शिकार हो चुके है।

चीन-

कोरोना वायरस का कहर चीन के वुहान में सबसे पहले देखने को मिला था। चीन में इस वायरस से अब तक कुल 81961 लोग संक्रमित हो चुके है जबकि मरने वालों की संख्या 3293 हो चुकी है। वहीं इस बात की भी खबर है कि चीन में जो लोग कोरोना से ठीक हो चुके है उनमें दोबारा कोरोना के लक्षण नजर आने लगे है। जो चीन के साथ साथ दूसरे देशों के लिए भी चिंता का विषय है।

इटली-

इटली भी कोरोना वायरस से बुरी तरह से प्रभावित है। इटली में शुरुआती चरण में काफी कम लोग इससे प्रभावित थे, लेकिन अचानक से कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या में इजाफा देखने को मिला और इटली दूसरे नंबर पर पहुंच गया। इटली में अब तक कुल 80539 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाये गये है जबकि 8165 लोगों की मौत हो चुकी है।

अमेरिका-

अगर अमेरिका की बात करें तो इसकी भी स्थिति लगातार बिगड़ती जा रही है। पिछले एक सप्ताह में कोरोना के संक्रमण में जबरदस्त तेजी देखने को मिली है। अमेरिका में गुरुवार को एक दिन में 16 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित पाये गये। अब तक एक दिन का यह सबसे बड़ा आकड़ा है। वहीं कोरोना से संक्रमित लोगों की बात करें तो अमेरिका ने चीन और इटली को भी अब पीछे छोड़ दिया है। अमेरिकी में संक्रमित लोगों की संख्या 85 हजार को पार चुकी है। जबकि मरने वालों की संख्या 1290 पहुंच चुकी है जिसमें करीब 263 लोगों की मौत मात्र 24 घंटे के अंदर हुई है।

भारत-

भारत में भी कोरोना वायरस पूरी तरह से पैर पसार चुका है। लेकिन भारत सरकार की सूझबूझ और तैयारियो के चलते भारत में इस पर लगाम लगाने की पूरी तैयारी चल रही है। केंद्र सरकार की तरफ से 21 दिनों का पूरे देश में लॉक डाउन लगा दिया गया है। इसके साथ ही कई राज्यों में कर्फ्यू भी जारी है। सरकार की तरफ से लोगों को जरुरी सुविधाएं मुहैया कराई जा रही है। भारत में अब तक कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 724 पहुंच चुकी है जबकि 17 लोगों की मौत हो चुकी है। भारत में पिछले तीन दिनों में संक्रमण की गति में कमी देखने को मिली है जिससे यह कयास लगाये जा रहे है कि सरकार के लॉक डाउन के फैसले से संक्रमण में कमी आयी है।

पाकिस्तान-

पाकिस्तान भी कोरोना वायरस अपना पैर पसार चुका है लेकिन वहां की सरकार इसके लिए बिल्कुल भी तैयार नही है। पाक में करीब 1200 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके है और 9 लोगों की मौत हो चुकी है। पाक सरकार की तरफ से इसके लिए अभी तक कोई खास तैयारी नजर नहीं आ रही है। वहीं पाकिस्तान में कोरोना वायरस से संक्रमित सबसे ज्यादा युवा है जबकि बाकी देशों में इससे उलट है वहां बुजुर्गों की संख्या ज्यादा है।

कोरोना वायरस से पूरा विश्व परेशान है ऐसा शायद पहली बार देखने को मिल रहा है जब पूरे विश्व में लॉक डाउन की स्थिति बनी हुई है। छोटे बड़े सभी देश इससे चिंतित है। महाशक्ति कहे जाने वाले अमेरिका, रुस और चीन जैसे देश भी अपने लोगों को बचाने की पूरजोर कोशिश कर रहे है लेकिन उसमें भी उन्हे सफलता नहीं मिल पा रही है। इससे पूरे विश्व की जनता चिंतित है खासकर छोटे देशों को ज्यादा चिंता है कि अगर उनके यहां भी चीन और अमेरिका जैसे हालात पैदा हो गये तो वह कैसे संभालेगें? और अंत में हर किसी के मन में एक ही सवाल है कि आखिर कोरोना का अंत कब होगा?

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu
%d bloggers like this: