कोरोना संकट: डूबती अर्थव्यवस्था के साथ लोग भी होंगे बेरोजगार

विश्व सहित पूरे भारत में कोरोना वायरस तेजी से पैर पसार रहा है हर तरफ इस महामारी ने कहर मचा रखा है। जिससे लोग अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में परेशान चल रहे हैं साथ ही इस महामारी ने लोगों को उनकी नौकरी और व्यापार से भी दूर कर दिया है जिसका लोगों की जिंदगी के साथ-साथ देश की अर्थव्यवस्था पर भी बुरा असर पड़ रहा है। कोराना वायरस का अर्थव्यवस्था पर बुरा असर शुरुआती दिनों से ही देखने को मिल रहा है। इससे भारत के साथ-साथ विश्व के तमाम बाजार भी लगातार निचले स्तर के साथ कारोबार कर रहे हैं। भारतीय बाजारों में कई दिन ऐसे नजर आये जब गिरावट  इस स्तर पर पहुंच गयी जब बाजार को असमय ही बीच में बंद करना पड़ा था।
वही अर्थव्यवस्था के जानकारों की माने तो आने वाले समय में करीब 50 फ़ीसदी से अधिक लोगों की नौकरी पर खतरा मंडरा रहा है क्योंकि सरकार की तरफ से जारी 21 दिनों के लॉक डाउन के बाद सभी कंपनियां घाटी के साथ कारोबार कर रही है इसमें से ज्यादातर कंपनियां पूरी तरह से ठप हो चुकी है जिससे लगातार उनके व्यापार में गिरावट हो रही है। इससे यह उम्मीद लगाई जा रही है कि आने वाले समय में ऐसी कंपनियां लोगों को निकाल कर घाटे की भरपाई करने की कोशिश करेंगी। क्योंकि बुरे हालात सिर्फ भारत के ही नहीं है बल्कि विश्व के तमाम देश भी इस कोरोना के कहर से जूझ रहे हैं ऐसे में किसी भी व्यापार का अचानक से ऊपर उठना लगभग ना के बराबर माना जा रहा है।
वहीं भारतीय उद्योग परिसंघ (CII) ने एक सर्वेक्षण के बाद बताया कि आने वाले समय में भारी संख्या में लोगों की नौकरियां जा सकती हैं। सीआईआई के करीब 200 मुख्य कार्यकारी अधिकारियों के बीच किए गए एक ऑनलाइन सर्वेक्षण में यह पता चला है कि मांग में कमी आने से ज्यादातर कंपनियां घाटे में चल रही है जिसके बाद नौकरियों की जाने का अंदेशा बढ़ गया है।
चीन में कोरोना वायरस की शुरुआत नवंबर में हुई थी जिसके बाद से ही विश्व के बाजारों में गिरावट शुरू हो गई थी और इसका असर भारत में भी दिखने लगा था। एक रिपोर्ट के मुताबिक पिछली तिमाही (जनवरी-मार्च) और चालू तिमाही (अप्रैल-जून) के बीच में ज्यादातर कंपनियों में 10% से अधिक कमी की आशंका देखी गई है। जिससे कंपनियों के लाभ में करीब 5% से अधिक की गिरावट देखी जा सकती है जिसका सीधा असर लोगों की नौकरी पर पड़ने वाला है।
कोरोना वायरस का कहर भारत के साथ साथ पूरी दुनिया में जारी है इस वक्त अमेरिका के हालात सबसे बुरे हैं जहां इस संक्रमण से करीब 3 लाख से ज्यादा लोग मामले सामने आ चुके हैं और 8 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं भारत में भी यह आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। संक्रमित लोगों की संख्या  3.5 हजार पहुंच गयी है जबकि करीब 77 लोगों की मौत हो चुकी है। 

This Post Has One Comment

  1. Sandeep mane

    Yeh gambhir baat hai

आपकी प्रतिक्रिया...