इरफान खान हुए सुपुर्दे-ए-खाक, उनके अभिनय को पूरी दुनिया करेगी याद

  • पीएम मोदी व अमित शाह ने दी श्रद्धांजली 
  • इरफान खान को वर्सोवा के कब्रिस्तान में किया गया सुपुर्दे-ए-खाक
  • दोनों बेटों सहित परिवार के सदस्य रहे मौजूद
  • पुलिस ने सिर्फ 20 लोगों के साथ रहने की दी थी इजाज़त
  • बॉलिवुड को नहीं मिला अंतिम दर्शन

डेथ और शिट किसी को कभी भी कहीं भी आ सकती है” इरफान खान का यह मशहूर डॉयलॉग कभी उनकी रियल लाइफ से निकल कर उनकी रियल लाइफ में इस्तेमाल किया जायेगा ऐसा शायद उन्होने भी नही सोचा होगा। लेकिन आज ऐसा ही हो रहा है और इस डॉयलॉग पर अब लोग तालियां नहीं बजा रहे है बल्कि आंसू बहा रहे है क्योकि इस डॉयलॉग को बोलने वाला अब हमेशा के लिए खामोश हो गया है। बुधवार को एक्टर इरफान खान ने मुंबई में अंतिम सांस ली और दुनिया को अलविदा कह गये हालांकि उनकी मौत ऐसे समय में हुई कि लोग उनके अंतिम दर्शन भी नहीं कर सके। कोरोना वायरस की वजह से इरफान खान के पार्थिव शरीर को अस्पताल से सीधे वर्सोवा के कब्रिस्तान ले जाया गया जहां सिर्फ दोनो बेटों के अलावा परिवार के सदस्य मौजूद थे।

इरफान खान की अंतिम यात्रा में सिर्फ 20 लोगों के रहने की अनुमति दी गयी थी साथ ही पुलिस की तरफ से कड़ी सुरक्षा व्यवस्था भी की गयी थी क्योंकि इरफान खान की चाहने वालों की संख्या काफी ज्यादा है इसलिए पुलिस को डर था कि कहीं भीड़ अचानक से इकट्ठा ना हो जाये। इरफान खान पिछले काफी समय से कैंसर जैसी भयानक बिमारी से लड़ रहे थे इसके इलाज के लिए वह लंदन तक गये थे जिसके बाद उनकी आंतों में भी सूजन आ गयी थी और अंत में इरफान खान जिंदगी की यह लड़ाई हार गये।

इरफान खान के निधन की खबर ने पूरे बॉलिवुड को झकझोर दिया क्योंकि इतने जल्दी किसी ने भी इस अभिनेता को विदाई देने के लिए नहीं सोचा था, इरफान खान के निधन के साथ साथ इस बात का भी दुख है कि उनके अंतिम दर्शन भी किसी को नहीं हो सके। 

प्रधानमंत्री मोदी ने शोक प्रकट करते हुए लिखा कि इरफान खान के निधन से सिनेमा और थियेटर को बड़ी क्षति हुई है उनके शानदार कामों की वजह से उन्हे हमेशा याद किया जायेगा, भगवान उनकी आत्मा को शांति दे।

 

मोदी के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी इरफान के निधन पर शोक प्रकट किया और कहा कि इस महान अभिनेता के जाने से फिल्म जगत का बड़ा नुकसान हुआ है। हमें ऐसी महान आत्माओं के लिए प्रार्थना करनी चाहिए।

राहुल गांधी ने कहा कि टीवी से लेकर हॉलिवुड तक अपना परचम लहराने वाले इस अभिनेता को कभी भी भूला नहीं जा सकता है। दुनिया हमेशा याद रखेगी। भगवान आत्मां को शांति प्रदान करे।

 

बॉलिवुड के महानायक अमिताभ बच्चन ने भी इरफान खान के जाने पर दुख प्रकट किया और कहा कि इस खबर उन्हे पूरी तरह से झकझोर कर रख दिया, इरफान ने सिनेमा जगत को बहुत कुछ दिया है जिससे दुनिया उन्हे हमेशा याद रखेगी।

 

शाहरुख खान ने भी इस महान अभिनेता के निधन पर शोक प्रकट किया और खुदा से दुआ मांगी कि उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें

 

क्रिकटर युवराज सिंह ने भी अभिनेता की मौत पर दुख प्रकट किया साथ ही अपने खुद के अनुभव को साझा करते हुए कहा कि मुझे भलिभांति पता है कि यह दर्द और लड़ाई कैसी होती है। मुझे पता है कि इरफान खान ने अंतिम समय तक यह लड़ाई लड़ी है लेकिन कुछ लोग भाग्यशाली होते है जो यह लड़ाई जीत जाते है जबकि सब लोग इतने भाग्यशाली नहीं होते।

करीब एक सप्ताह में इरफान खान के घर में यह दूसरी मौत है इससे पहले इरफान की मां का निधन हुआ था वह भी लम्बी बिमारी से जूझ रही थी। इरफान की मां को जयपुर में सुपुर्दे-ए-खाक किया गया था लेकिन लॉक डाउन की वजह से इरफान खान शामिल नहीं हो सके थे। इरफान की मौत के साथ ही उनकी मां से मिलने की तमन्ना भी उनसे साथ चली गयी। कोरोना वायरस की वजह से ना तो इरफान अपनी मां से मिल सके और ना ही इरफान से कोई आखिरी मुलाकात कर सका।

इरफान की मौत के बाद अब उनका ही एक डॉयलॉग याद आता है यह शहर हमें जितना देता है बदले में कहीं ज्यादा हमसे ले लेता है”

आपकी प्रतिक्रिया...