आरोग्य भारती कर रहा है रोगप्रतिरोधक काढ़े का वितरण

देश में कोरोना संकट के चलते जन सामान्य में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढाने के लिए डॉक्टर कई तरह की उपाय बता रहे है। घरों में ही रहने वाले लोगों की रोगप्रतिरोधक क्षमता कैसे कायम रहे इसके लिए राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के अनुषांगिक संगठन आरोग्य भारती ने भी बड़ी पहल की है। आरोग्य भारती दिल्ली में रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने वाले काढे का वितरण कर रहा है। खास बात यह हैं कि आरोग्य भारती ने इस काढे में इस्तेमाल होने वाली जड़ी बूटियों को दरदरा पिसवा कर उनके पैकेट तैयार कराएं है। इस काढे में कालमेघ, चिरायता, गिलोय, तुलसी और मुलेठी जैसी लाभदायक जड़ी बूटियों को शामिल किया गया है। इन पैकेट में उपलब्ध मिश्रण को गर्म पानी में तैयार कर इस्तेमाल किया जा सकता है। दिल्ली के अशोक विहार में आरोग्य भारती वैद्य दीपक कुमार की देखरेख में इस काढे के पैकेट को तैयार कराने का काम कर रही है। जहां कोविज-19 के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए स्वयं सेवक पैकिंग का काम कर रहे है। आरोग्य भारती के दिल्ली प्रदेश सचिव डॉक्टर राजेश तलवार ने बताया कि फिलहाल वह दस हजार पैकेट संघ के आठ अनुषांगिक संगठनों को प्रदान करेंगे। संघ के यह संगठन लॉक-डॉउन के दौरान दिल्ली में सेवा कार्य में जुटे हैं। डॉक्टर राजेश तलवार ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व्दारा ऐसे वक्त में लोगों से रोगप्रतिरोधक काढे के उपयोग के लिए कहा गया है। जिसके बाद आरोग्य भारती ने राजधानी के लोगों के बीच निःशुल्क काढे के पैकेटों का वितरण करने का निश्चिय किया। डॉक्टर राजेश ने बताया कि इसके पहले चरण में कोरोना महामारी से लड़ने वाले कोरोना वॉरियर्स डॉक्टर्स, नर्स, पैरामेडिकल स्टाफ, सफाई कर्मियों, पुलिस कर्मियों और अन्य सुरक्षा कर्मियों के बीच 8 हजार काढे के पैकटों का वितरण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि जल्दी ही दूसरे चरण में आरोग्य
भारती काढे के 30 हजार से ज्यादा पैकेट भी तैयार करवा उनका वितरण कराने का काम करेगी।

आपकी प्रतिक्रिया...