भारत-अमेरिका के बीच हुए कई महत्वपूर्ण रक्षा समझौते, चीन को भारत-अमेरिका की दोस्ती से चिढ़

भारत और अमेरिका के बीच लगातार रिश्ते करीबी होते जा रहे है इसी बीच अमेरिकी विदेश मंत्री का भारत दौरा इसे और भी करीबी बना रहा है। अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पाम्पियो का भारत दौरा ऐसे समय में हो रहा है जब भारत और चीन के बीच तनाव अपनी चरम सीमा पर है। भारत पहुंचे अमेरिकी विदेश मंत्री ने भारत को यह आश्वासन दिया है कि वह भारत के साथ खड़ा है। अमेरिका ने कहा कि भारत अपनी अखंडता के लिए जो कदम उठा रहा है वह पूर्ण रुप से सही है और अमेरिका उसके साथ खड़ा है। इस दौरान अमेरिकी विदेश मंत्री ने चीन के साथ झड़प में शहीद हुए जवानों को याद किया और उन्हे श्रद्धांजली दी।


मंगलवार को भारत और अमेरिका के बीच कई महत्त्वपूर्ण रक्षा समझौते हुए। इस दौरान भारतीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और विदेश मंत्री एस. जयशंकर और उनके अमेरिकी समकक्ष भी मौजूद थे। दोनों देशों के बीच बुनियादी विनिमय और सहयोग समझौते पर हस्ताक्षर हुआ जिसके बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बयान जारी करते हुए कहाकि दोनों देशों के बीच कई महत्त्वपूर्ण समझौतों पर हस्ताक्षर हुए है लेकिन इसमें बुनियादी विनिमय और सहयोग समझौता अहम है। राजनाथ सिंह ने कहा कि अमेरिका के साथ भारत का सैन्य स्तर का सहयोग तेजी से आगे बढ़ रहा है इसके द्वारा हम हिंद और प्रशांत क्षेत्र में एक दूसरे के सहयोग से शांति स्थापित करेंगे। वहीं अमेरिकी रक्षा मंत्री एस्पर ने भी रक्षा सहयोग को लेकर भारत की तारीफ की और कि हम हमेशा एक दूसरे का सहयोग करेंगे।

अमेरिकी विदेश मंत्री के भारत दौरे के बाद चीन फिर से अमेरिका पर चिढ़ा हुआ है और अमेरिका पर आरोप लगा रहा है कि वह दो पड़ोसी देशों के बीच दखल दे रहा है। इससे पहले भी अमेरिकी विदेश मंत्री ने चीन को लेकर कई बयान जारी किया था जिसके बाद से चीन की तरफ से अमेरिका के खिलाफ बयानबाजी जारी है। दरअसल चीन को भारत और अमेरिका की दोस्ती रास नहीं आ रही है क्योंकि उसे यह भलिभांति पता है कि अगर भारत और चीन की दोस्ती बढ़ती है तो इससे चीन और उसके हालिया दोस्त पाकिस्तान के लिए मुसीबत पैदा हो सकती है।


आपको बतादें कि अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और रक्षा मंत्री मार्क टी एस्पर सोमवार को अपने भारत दौरे पर राजधानी दिल्ली पहुचें है। दोनों देशों के बीच कई अहम फैसलों पर हस्ताक्षर हो चुके है। अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और रक्षा मंत्री मार्क टी एस्पर ने मंगलवार को प्रधानमंत्री मोदी से भी मुलाकात की इस दौरान काफी समय तक यह बैठक चली। इस बैठक में सीडीएस चीफ बिपिन रावत और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल मौजूद थे।

आपकी प्रतिक्रिया...