भारत-पाक सीमा पर सेना ने ढूंढी 40 मीटर लंबी सुरंग, आतंकी यहीं से करते थे घुसपैठ


पाकिस्तान की तरफ से लगातार घुसपैठ की कोशिश जारी है। इसका जीता जागता सबूत रविवार को उस समय सामने आया जब भारतीय सेना के जवानों एक सुरंग को ढूंढ निकाला। भारत-पाक सीमा पर सेना को अचानक से एक ऐसी सुरंग नजर आयी जो पाक सीमा से भारत की सीमा में तैयार की गयी थी। सुरंग काफी छोटी थी लेकिन उस सुरंग के माध्यम से आसानी से एक व्यक्ति आ जा सकता है। सुरंग का निरीक्षण करने के बाद सेना की तरफ से कहा गया कि इस सुरंग का इस्तेमाल आतंकी भारत की सीमा में प्रवेश करने के लिए करते थे।

जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर नगरोटा टोल नाके पर मारे गये आतंकियों का भी इस सुरंग से कनेक्शन हो सकता है। सेना का कहना है कि पाकिस्तान की तरफ से घुसपैठ की कोशिश जारी है और उसके लिए अलग अलग उपाय किये जा रहे है। इस सुरंग की लम्बाई करीब 40 मीटर है और ऐसा मानना है कि आतंकी इसी सुरंग से भारत की सीमा में प्रवेश किये थे और इसमें उनकी मदद भी देश के अंदर से किसी ने की थी।सेना के अधिकारियों का ऐसा मानना है कि नगरोटा में मारे गये आतंकी इसी सुरंग के रास्ते अंदर आये थे और किसी की मदद से ही हाइवे तक पहुंचे थे। सेना और पुलिस की तरफ से जांच जारी है और संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है जिससे आतंकियों की मदद करने वाले का पता चल सके।

इस सुरंग को सेना और जम्मू कश्मीर पुलिस दल के संयुक्त दल को खोजा है। सूत्रों से ऐसा पता चला कि नगरोटा मुठभेड़ के बाद सेना को कुछ अहम सबूत मिले थे जिसके आधार पर किसी सुरंग के होने की बात सामने आयी और फिर सेना और पुलिस ने संयुक्त दल बनाकर सुरंग की खोज शुरु की जिसमें इन्हे सफलता हाथ लगी। जम्मू कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया कि इस सुरंग के मिलने से एक बार फिर से पाकिस्तान बेनकाब हो गया है क्योंकि सुरंग के अंदर से पाकिस्तानी बैग मिले है और सुरंग का दूसरा छोर भी पाकिस्तान की सीमा में निकलता है। हालांकि यह कोई पहली बार नहीं है जब पाक की तरफ से घुसपैठ की कोशिश की गयी है। इससे पहले भी पाक की तरफ से कई बार घुसपैठ की कोशिश की गयी है लेकिन ज्यादातर बार उसे विफलता ही हाथ लगी है।

सेना ने बताया कि इस सुरंग से ही आतंकी निकलकर जम्मू कश्मीर तक पहुंच गये थे और किसी बड़े हमले की साजिश में कश्मीर जा रहे थे लेकिन सुरक्षाबलों ने उन्हे नगरोटा टोल पर मार गिराया। ट्रक में छिपकर जा रहे आतंकियों ने चेकिंग के दौरान पुलिस पर फायरिंग कर दी जिसके बाद पुलिस और सेना ने संयुक्त अभियान चला कर आतंकियों को ट्रक में ही मार गिराया। मारे गये सभी आतंकी जैश-ए-मोहम्मद ग्रुप के बताये गये थे इनके पास से मोबाइल फोन, जीपीएस, कुछ नक्शे और वायरलेस सेट बरामद हुआ था। फिलहाल जम्मू कश्मीर पुलिस इस इनकाउंटर के संबंध में चार लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

आपकी प्रतिक्रिया...