झड़ते और सफेद बाल से हैं परेशान तो करें यह योग

 

आजकल की भाग दौड़ भरी जिंदगी में करीब हर व्यक्ति परेशान और टेंशन में रहता है क्योंकि हर व्यक्ति को भौतिक सुख की चाह बहुत होती है और वह इसके पीछे की पूरी जिंदगी मेहनत करता रहता है लेकिन इस दौरान वह इस बात का ध्यान नहीं दे पाता कि वह अपने सबसे अनमोल शरीर का बिल्कुल भी खयाल नहीं रख पा रहा है नतीजा शरीर तमाम तरह के रोगों से ग्रसित हो जाता है। इसमें से कुछ रोग तो ऐसे होते है जिसे व्यक्ति जानते हुए भी नजर अंदाज़ कर देता है जबकि कुछ ऐसे रोग होते है जिसे व्यक्ति नजर अंदाज़ नहीं कर सकता और उसे डाक्टर के पास जाना पड़ता है लेकिन इस दौरान जो कुछ छोटी छोटी समस्याएं होती है उसमें से एक है बालों का गिरना और सफेद होना। हालांकि इसके लिए भी कई कारण है लेकिन इसका विशेष कारण दूषित पर्यावरण, गलत खान पान, नींद का पूरा ना होना और टेंशन आदि। 

बाल गिरने और सफेद होने की समस्या से आज के समय में हर चौथा व्यक्ति परेशान है लेकिन उसमें से बहुत ही कम लोग है जो इसका इलाज कर रहे है और जो लोग इसका इलाज करवाना चाहते है वह डाक्टर के पास जाते है जबकि इसका सही और असरदार इलाज सिर्फ योग के द्वारा ही सभव है। योग के द्वारा बालों का गिरना और सफेद होना पूरी तरह से बंद हो सकता है लेकिन इसके लिए आप को समय देना होगा। कुछ योगसन से ना सिर्फ आप अपने बालों को बचा सकते है बल्कि आप शरीर के अन्य भागों को भी स्वस्थ्य कर सकते है। बालों के लिए जिन योग को बताया गया है उनसे आप के मस्तिष्क की मांसपेशियों को भी लाभ मिलेगा और आप चिंता व अनिंद्रा जैसी बिमारी से बच सकेंगे। इसलिए अगर आप अपने बालों को बचाना चाहते है और मस्तिष्क को स्वस्थ्य रखना चाहते हैं तो आप नियमित योग करें।
1. अधोमुख शवासन
इस योगासन के नियमित उपयोग से बाल से जुड़ी समस्या, साइनस, जुकाम और मस्तिष्क की परेशानियों से आराम मिलता है। इस योग को करने के लिए सबसे पहले आप सीधे खड़े हो जाएं फिर धीरे धीरे आगे की तरफ झुके और हाथ को जमीन पर रखते हुए हिप को उपर की तरफ की खींचे। इस आसन के दौरान कंधे और हाथ एक सीध में होने चाहिए।
2. उत्थान आसन
इस योग के लिए सबसे पहले आप सीधे खड़े हो जाएं फिर धीरे धीरे आगे की तरफ झुकें और दोनों हाथों को दोनों पैरों के बगल में रख दें। इस आसन को उत्थान आसन कहते है। इससे बालों की समस्या, थकान, कमज़ोरी और पेट से जुड़ी समस्याएं खत्म होती है।
3.पवनमुक्तासन
यह योग विशेषतौर पर गैस और पाचन शक्ति को सुधारने में कारगर होता है। इसके साथ ही कमर के नीचे की मांसपेशियाँ भी मजबूत होती है। पेट और कुल्हे की चर्बी भी कम होती है। यह आसन बहुत ही सरल है। सबसे पहले आप समतल जमीन पर लेट जाएं और फिर अपने पैरों को धीरे धीरे मोड़ते हुए पेट के उपर लाएं। अब दोनों हाथों को पैर के उपर से एक दूसरे में बांध लें। इस अवस्था में कुछ समय तक रुकें आप को गैस से तुरंत राहत मिलेगी।
4. सर्वांगासन
सबसे पहले आप पीठ के बल लेट जाएं और फिर अपने पैरों को धीरे धीरे उपर की तरफ उठाएं। पैर जब 90 डिग्री तक पहुच जाएं तब आप अपनी कमर को हाथों से सहारा दें और इसी आसन में कुछ समय तक पड़े रहें। इस आसन में सिर नीचे और पैर उपर होता है इसलिए यह बालों के साथ साथ, पेट, थाइराइड ग्रंथि और पाचन क्रिया को मजबूत करता है। 
 
5. वज्रासन
इस आसन की सबसे अच्छी खासियत यह है कि इसे खाने के तुरंत बाद भी किया जा सकता है। यह वजन कम करने, गैस की समस्या और भोजन को पचाने में सहायक होता है। इस आसन के लिए सबसे पहले आप को पैर के बल पर बैठना होगा लेकिन इस दौरान घुटने आगे जमीन पर होंगे और पैर का पंजा आप की नितंब के नीचे होगा, कमर और हाथ बिल्कुल सीधा होगा। हाथ घुटनो पर होगा और नजर सामने होगी। 
  
योग के अलावा भी बालों को काला और लंबा किया जा सकता है। इसके लिए आप को अपनी सेहत से जुड़ी बातों पर ध्यान देना होगा। सबसे पहले आप यह देंखें की आप जो भोजन कर रहे है वह कितना पौष्टिक है। अगर वह पौष्टिक भोजन नहीं है तो उसे बदलें और किसी चिकित्सक से परामर्श लें। आप के लिए हर दिन 8 घंटे की नींद भी बहुत जरुरी है और किसी भी तरह के तनाव से भी बचने की कोशिश करें। अगर हर दिन आप के दोपहर और रात के खाने का समय सही नहीं है तो उसे भी नियमित करें।

आपकी प्रतिक्रिया...