मोदी मंत्री मंडल विस्तार: जानिए कौन हुआ शामिल और कौन हुआ बाहर ?

मोदी मंत्री मंडल विस्तार: जानिए कौन हुआ शामिल और कौन हुआ बाहर ?
मोदी मंत्री मंडल विस्तार: जानिए कौन हुआ शामिल और कौन हुआ बाहर ?

 

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मोदी मंत्रिमंडल के सभी नये सदस्यों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। नारायण राणे, सर्बानंद सोनोवाल, आरसीपी सिंह, ज्योतिरादित्य सिंधिया, किरण रिजिजू, हरदीप सिंह पुरी और अनुराग ठाकुर सहित बाकी के सदस्यों ने पद और गोपनीयता के साथ साथ देश और जनता की सेवा का वादा किया, हालांकि यह तो आने वाले समय में जनता भी देखना चाहेगी कि मोदी के नये मंत्री किस तरह से देश को नई दिशा और दशा देना शुरू करते है।

किसी भी सरकार के मंत्रिमंडल में फेरबदल होना आम बात होती है। मंत्रिमंडल में फेरबदल का मतलब होता है विकास कार्यों को और तेज गति से आगे बढ़ाना लेकिन वर्तमान की मोदी सरकार के मंत्रिमंडल को लेकर विपक्ष लगातार आरोप लगा रहा है और यह दावा कर रहा है कि सरकार को खुद यह लगने लगा कि उसके मंत्री जरूरत के अनुरूप काम नहीं कर रहे है जिससे सरकार यह फेरबदल कर रही है हालांकि विपक्ष है तो आरोप लगाना उसका काम है, जबकि केंद्र सरकार अपनी नीति के अनुसार मंत्रिमंडल में फेरबदल कर आगे के कार्यों को फिर से विस्तार देने में जुट गयी है।

मोदी कैबिनेट से कुछ लोगों को बाहर भी किया गया क्योंकि जब तक लोग बाहर नहीं होंगे तब तक नये चेहरों को मौका भी नहीं मिलेगा। कैबिनेट से बाहर होने वालों में कुल 11 लोगों का नाम शामिल है जबकि कैबिनेट में कुल 48 लोगों को जगह दी गयी है इसमें बीजेपी के साथ साथ सहयोगी पार्टियों के नेताओं को भी मौका दिया गया है इसके साथ ही उन नेताओं को भी मौका मिला है जिन्होंने दूसरी पार्टी को छोड़ बीजेपी का दामन थामा है। दूसरे कार्यकाल के पहले मंत्रिमंडल विस्तार में युवा चेहरों को ज्यादा मौका दिया जा रहा है। इस नये मंत्रिमंडल में सरकार ने सबका साथ सबका विकास की तर्ज पर सभी को मौका दिया है और महिलाओं की हिस्सेदारी को भी बढ़ाया है। नई कैबिनेट में 11 महिला मंत्री, 27 OBC मंत्री, 12 SC मंत्री और 8 ST मंत्रियों को शामिल किया गया है हालांकि विपक्ष इसे भी आगामी चुनाव से जोड़ कर देख रही है।

मंत्रियों के शपथ ग्रहण समारोह से पहले प्रधानमंत्री मोदी के साथ इन सभी की चाय पर एक छोटी मुलाकात भी हुई जहां पीएम मोदी ने सभी से व्यक्तिगत रूप से मुलाकात की। इस दौरान रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, जेपी नड्डा, नितिन गडकरी सहित तमाम नेता मौजूद रहे। सरकार मंत्रिमंडल में कुल 81 मंत्रियों को शामिल कर सकती है लेकिन मौजूदा समय में सरकार के पास 53 मंत्री ही थे जिससे 28 मंत्रियों के और शामिल होने की बात कही जा रही थी लेकिन 11 मंत्रियों के इस्तीफे के बाद अब कुल 39 मंत्रियों के शामिल होने की गुंजाइश हो गयी जबकि सरकार ने 43 मंत्रियों को शपथ दिलाई इसमें कुछ राज्य मंत्री थे जिन्हें कैबिनेट में जगह दी गयी है।

कैबिनेट मंत्रिमंडल के नये चेहरे 
1. नारायण राणे
2. सर्बानंद सोनोवाल
3. वीरेंद्र कुमार
4. ज्योतिरादित्य सिंधिया
5. आरसीपी सिंह
6. अश्विनी वैष्णव
7. पशुपति कुमार पारस
8. किरण रिजिजू
9. राजकुमार सिंह
10. हरदीप सिंह पुरी
11. मनसुख मंडाविया
12. भूपेंद्र यादव
13. पुरुषोत्तम रुपाला
14. जी किशन रेड्डी
15. अनुराग ठाकुर
16. पंकज चौधरी
17. अनुप्रिया पटेल
18. सत्यपाल सिंह बघेल
19. राजीव चंद्रशेखर
20. शोभा करंदलाजे
21. भानु प्रताप सिंह वर्मा
22. दर्शना विक्रम जरदोश
23. मीनाक्षी लेखी
24. अन्नपूर्णा देवी
25. ए नारायण स्वामी
26. कौशल किशोर
27. अजय भट्ट
28. बीएल वर्मा
29. अजय कुमार
30. देव सिंह चौहान
31. भगवंत खुबा
32. कपिल मोरेश्वर पाटिल
33. प्रतिमा भौमिक
34. सुभाष सरकार
35. भगवत कृष्ण राव कराड़
36. राज कुमार रंजन सिंह
37. भारती प्रवीण पवार
38. विश्वेश्वर टूडू
39. शांतनु ठाकुर
40. महेंद्र भाई मुंजापारा
41. जॉन बारला
42. एल मुरुगन
43. नीतिश प्रामाणिक

मोदी मंत्री मंडल विस्तार: जानिए कौन हुआ शामिल और कौन हुआ बाहर ?

मंत्रिमंडल से हुए बाहर
सदानंद गौड़ा
रविशंकर प्रसाद
थावर चंद गहलोत
रमेश पोखरियाल निशंक
हर्षवर्धन
प्रकाश जावड़ेकर
संतोष कुमार गंगवार
बाबुल सुप्रियो
संजय धोत्रे
रत्तन लाल कटारिया
प्रताप चंद सारंगी
देबोश्री चौधरी

आपकी प्रतिक्रिया...