सूर्या फाउण्डेशन द्वारा पोषण वाटिका हेतु बीज वितरण कार्यक्रम

सूर्या फाउण्डेशन एक सामाजिक संस्था है जो पिछले 30 वर्षों से देश हित के लिए कार्य कर रही है। संस्था, आदर्श गाँव योजना के अंतर्गत देश के 18 राज्यों के 400 गाँवों में सेवा कार्य कर रही है। इसके तहत 600 शिक्षकों तथा 50 पूर्णकालिक कार्यकर्ताओं के द्वारा पाँच आयाम- शिक्षा, संस्कार, समरसता, स्वास्थ्य और स्वावलंबन को आधार बनाकर कार्य चल रहा है।

वर्तमान समय में खेती में ज्यादा से ज्यादा उपज लेने के लिए अधिक से अधिक रासायनिक उर्वरकों और कीटनाशक दवाओं का उपयोग किया जा रहा है। जिसके कारण रोज नई-नई गम्भीर बीमारियाँ उत्पन्न हो रही हैं। बड़ी संख्या में लोग बीमार हो रहे हैं। उनकी आय का एक बड़ा हिस्सा इलाज में चला जाता है।

ग्रामवासियों का स्वास्थ्य अच्छा रहे, कोई बीमार न हो, सबको पोषक भोजन मिले, गाँव का पैसा गाँव में रहे, इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए संस्था के चेयरमैन पद्मश्री जयप्रकाश जी की प्रेरणा से घर घर पोषण वाटिका अभियान चलाया गया। इस अभियान के अंतर्गत 50 गाँवों के 2000 परिवारों में 10 प्रकार की सब्जियों जैसे- लौकी, तोरई, बैगन, टमाटर, हरी मिर्च, मूली, गाजर, भिंडी, कद्दू और सेम के बीज वितरित किए गए। ये उन्नत किस्म के बीज भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान से खरीदकर वितरित किए जा रहे हैं। साथ ही पोषण वाटिका को जैविक विधि से करने का प्रशिक्षण भी दिया गया।

पहला सुख निरोगी काया के भाव से चलाए गये इस अभियान का परिणाम भी दिखाई दे रहा है। एक ओर जहाँ ग्रामीणों को जैविक ताजी एवं हरी सब्जियाँ मिल रही हैं तो वहीं दूसरी ओर उनके धन की भी बचत हो रही है। महिलाएँ, बच्चे पोषण वाटिका बनाने और उसकी देखभाल में बहुत रुचि ले रहे है। आने वाले दिनों में यह अभियान पूरे गाँव को सब्जियों के विषय में आत्मनिर्भर बनने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

स्वस्थ भारत – सुखी परिवार

This Post Has One Comment

  1. Anonymous

    पोषण वाटिका भारत की संस्कृति का एक हिस्सा है जो आज के शहरीकरण में विलीन होता जा रहा है, सूर्या फाउंडेशन द्वारा किया जा रहा यह श्रेष्ठ कार्य सराहनीय है।

आपकी प्रतिक्रिया...