जेवर एयरपोर्ट देगा उत्तर प्रदेश को एक नई उड़ान

किसी भी राज्य का यातायात उसकी विकास की कहानी लिखता है शायद इसी तर्ज पर देश की योगी और मोदी सरकार अब उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाने पर लगी हुई है। उत्तर प्रदेश का नाम माफिया लोगों की वजह से हमेशा चर्चा में रहता था लेकिन जब योगी की सरकार ने सत्ता संभाली है तब से यूपी सड़क, एयरपोर्ट और निवेश के लिए चर्चा में रहता है। उत्तर प्रदेश की धरती पर आज देश के सबसे बड़े एयरपोर्ट का शिलान्यास हो रहा है। इस शिलान्यास के लिए खुद पीएम मोदी पहुंचे हैं जिन्होंने शिलान्यास की नींव रखी। जानकारी के मुताबिक यह दुनिया का चौथा सबसे बड़ा और एशिया का पहला सबसे बड़ा एयरपोर्ट बनेगा। नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट से पहली उड़ान सितंबर 2024 तक शुरु हो जायेगी। इसके निर्माण में 29650 करोड़ रुपये खर्च होंगे। 

उत्तर प्रदेश में इतने बड़े एयरपोर्ट का निर्माण होना प्रदेशवासियों के लिए एक विशेष उपलब्धि है। यह सिर्फ एक एयरपोर्ट नहीं है बल्कि यह हजारों लोगों को रोजगार देने का एक जरिया है जिससे प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप में बड़ी संख्या में लोग लाभान्वित होंगे। इस एयरपोर्ट के साथ ही यह राज्य का पांचवां इंटरनेशनल एयरपोर्ट होगा। राज्य में तेजी से बढ़ते एयरपोर्ट इस बात का संकेत दे रहे हैं  कि आने वाले समय में उत्तर प्रदेश की दशा बदलने वाली है अब शायद लोगों को किसी दूसरे राज्य पर निर्भर नहीं रहना होगा। सभी को अपने ही राज्य में रोजगार मिल जायेगा। 

 
जेवर एयरपोर्ट शिलान्यास के बाद पीएम मोदी ने भी जनता को संबोधित किया और कहा इस एयरपोर्ट के बनने के बाद करीब करोड़ों लोगों को इसका लाभ मिलेगा। पीएम ने कहा कि यूपी बिहार के लोगों को राज्य की बदहाली के लिए दूसरे राज्यों में ताने सुनने को मिलते थे। कभी राज्य के नाम पर, कभी क्राइम के नाम पर, कभी गरीबी और बेरोजगारी के नाम पर बेइज्जती सहनी पड़ती थी लेकिन तेजी से बदलती राज्य की तस्वीर अब प्रदेशवासियों के लिए गर्व की अनुभूति कराने लगी है। कभी पिछड़े राज्यों में गिना जाने वाला यूपी अब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी छाप छोड़ रहा है। उत्तर प्रदेश को आगे बढ़ाने में सीएम योगी की अहम भूमिका रही है क्योंकि इससे पहले भी सरकारें आती रही लेकिन विकास का पहिया कभी दौड़ा नहीं, आज योगी के राज में बड़े बड़े विश्वविद्यालय, विश्वस्तरीय मेडिकल संस्थान, बेहतर सड़कें और एयर कनेक्टिविटी की  वजह से निवेशकों की निगाहें अब यूपी की तरफ देख रही है। 
 
नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट की एक झलक 
1.नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट की लागत पर कुल 29650 करोड़ खर्च होगा
2.नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर कुल 178 विमान खड़े हो सकेंगे
3.नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट से सितंबर 2024 में पहली फ्लाइट उड़ान भरेगी
4.नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट 5845 हेक्टर जमीन पर बनकर तैयार होगा
5.नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट साल 2030 तक दिल्ली एयरपोर्ट जैसा बनकर तैयार होगा
6.नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर 2024 में 40 लाख यात्रियों की आवाजाही का अनुमान है
7.नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर 2025-26 में 70 लाख यात्रियों का अनुमान है
8.नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट से शुरु में 8 घरेलू उड़ानें शुरु की जाएगी
9.नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के टर्मिनल के अंदर ही मेट्रो और बुलेट ट्रेन का स्टेशन होगा
 

आपकी प्रतिक्रिया...