फिलीपींस खरीदेगा भारत से यह मिसाइल

इस साल मार्च में भारत और फिलीपींस के बीच रक्षा समझौते पर हस्ताक्षर हुए थे जिसके बाद अब फिलीपींस ने भारत से ब्रह्मोस मिसाइल खरीदने की बात कही है और इसके लिए फिलीपींस सरकार की तरफ से बजट भी जारी कर दिया गया है। फिलीपींस अब भारत से सुपरसोनिक मिसाइल ब्रह्मोस को खरीदेगा और इसके लिए करीब शुरुआती 414 करोड़ का बजट भी पास कर दिया गया है। अब भारत जल्द ही ब्रह्मोस मिसाइल के निर्यात को शुरु कर देगा। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि हम आखिर कब तक दूसरे देशों से हथियार लेते रहेंगे अब हमें भी आत्मनिर्भर बनना होगा और हथियार को दूसरे देशों को बेचना होगा आज पीएम मोदी का वह भी सपना सच होने जा रहा है।

3 मार्च 2021 को भारत और फिलीपींस के बीच वहां से सशस्त्र बलों के मुख्यालय में हस्ताक्षर हुए थे जिसमें भारत की तरफ से राजदूत शंभू एस कुमारन ने हिस्सा लिया था और इस रक्षा समझौते के बाद यह तय हुआ था कि अब फिलीपींस सुपरसोनिक मिसाइल के साथ साथ रक्षा उपकरणों की खरीद भारत से करेगा। जिस समय यह समझौता हुआ उस समय फिलीपींस के पास पर्याप्त बजट नहीं था इसलिए इस समझौते को अंतिम रूप नहीं दिया जा सका। अब करीब 9 महीने बाद फिलीपींस की तरफ से पहला बजट जारी किया गया है। इसमें 190 करोड़ और 224 करोड़ के दो रिलीज ऑर्डर जारी किये गए है।

भारत और फिलीपींस के बीच यह समझौता उस समय हो रहा है जब फिलीपींस के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते का कार्यकाल मात्र 6 महीने और बचा है।फिलीपींस के बजट प्रबंधन विभाग की तरफ से 29 दिसंबर को दो आवंटन रिलीज ऑर्डर जारी किए गए है जिसमें पहला 190 करोड़ और दूसरा 224 करोड़ का है। भारत काफी समय से ब्रह्मोस मिसाइल पर काम कर रहा है और उसे बहुत अधिक हद तक आधुनिक भी बना दिया है लेकिन फिलीपींस को 290 किलोमीटर वाला ब्रह्मोस मिसाइल निर्यात किया जायेगा। यह एक सामान्य रेंज वाली मिसाइल है। भारत और फिलीपींस के बीच ब्रह्मोस को लेकर बहुत समय से बात चल रही थी लेकिन बजट की कमी से जूझ रहा फिलीपींस इसे अंतिम रूप देने में नाकाम साबित हो रहा था।

भारत और रूस के आपसी सहयोग से ब्रह्मोस मिसाइल को बनाया गया है और यह एक मात्र दुनिया की सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल है जिसकी गति ध्वनि से भी तीन गुना अधिक है। भारत ने रूस की मदद इसे अब तक की सबसे आधुनिक मिसाइल के तौर पर तैयार किया है और इसकी वजह से ही भारत मिसाइल के क्षेत्र में अग्रणी बना हुआ है। फिलीपींस के साथ साथ ओमान, वियतनाम और मिस्र जैसे देश भी ब्रह्मोस मिसाइल खरीदने की तैयारी में है। इस मिसाइल की विशेषताओं की वजह से इसकी मांग अधिक है और यह तटीय सुरक्षा और सीमा सुरक्षा के लिए बहुत ही उपयोगी है।

आपकी प्रतिक्रिया...