मुनव्वर राणा के गलती की सजा मिली बेटी को

शायर मुनव्वर राणा अपनी शायरी से अधिक अक्सर अपने बयानों के कारण चर्चा में रहते हैं। उत्तरप्रदेश में चुनाव से पहले मुनव्वर राणा ने एक बयान दिया था कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा सीएम बनते हैं, तो वो उत्तर प्रदेश छोड़ देंगे। अब जब चुनाव के रिजल्ट जारी हो गये, बीजेपी एक बार फिर से भारी बहुमत की वजह से सत्ता में लौट आई और फिर से योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने की तैयारी हो रही है तो सोशल मीडिया में सक्रिय लोगों ने मुनव्वर राणा के खिलाफ मीम बनाने शुरू कर दिए हैं। लोग पूछ रहे हैं कि आखिर मुनव्वर राणा कब उत्तर प्रदेश छोड़ रहे हैं?

मुनव्वर राणा के इस बयान को लेकर काफी हो हल्ला मचा था, काफी विवाद पैदा हुआ था? कई लोगों ने बताया कि मुनव्वर राणा का यह बयान सांप्रदायिकता के रंग में रंगा हुआ है। लेकिन अब लगता है की राणा के बयान से नाराज जनता ने उनकी बेटी पर सारा गुस्सा उतारा है।यानी बाप द्वारा किये गये गलती की सजा बेटी को भुगतना पड़ा।

मुनव्वर राणा की बेटी उरूसा राणा, उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले की पुरवा सीट से कांग्रेस उम्मीदवार थीं। लेकिन इस सीट पर उन्हें बुरी तरह से हार का सामना करना पड़ा। उरूसा इमरान राणा को नोटा से भी कम वोट मिले हैं, जबकि इस सीट से भी बीजेपी उम्मीदवार ने जीत दर्ज की।

इस सीट से बीजेपी प्रत्याशी अनिल कुमार सिंह 72631 वोट के साथ पहले नंबर पर रहे तो वहीं समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार उदय राज 52578 वोट के साथ दूसरे स्थान पर रहे। जबकि कांग्रेस प्रत्याशी उरूसा राणा 977 वोट के साथ तीसरे नंबर पर रहीं। उनसे ज़्यादा वोट (1269) तो नोटा को मिले।

वोटों को देखते हुए इस बात की चर्चा आम है कि जनता ने सांप्रदायिक ताकतों को बुरी तरह से नकार दिया है।जनता ने राणा के बयान की सजा उनकी बेटी को वोट न देकर दी।

मुनव्वर राणा अक्सर अपने बयान से लोगों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ करने का प्रयास करते हैं। उन्हें अपनी शायरी से अधिक राजनीति सुहाती है, अगर उन्हें राजनीति इतनी ही पसंद है तो चुनाव लड़ लें। लेकिन मुनव्वर राणा यह भूल गये कि,यह पब्लिक है यह सब जानती है। पब्लिक भी नफा नुकसान देख कर बोलने वालों को सबक सिखाना जान गयी है।

मुनव्वर राणा ने अपने एक पुराने इंटरव्यू में कहा था कि, अगर यूपी में दोबारा योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री बने तो वो यूपी छोड़ देंगें और दिल्ली-कोलकाता चले जाएंगे। मुनव्वर की इन्हीं बातों का हवाला देते हुए सोशल मीडिया पर मीम वायरल होने लगे हैं। जिसमें मुनव्वर की एक तस्वीर खूब शेयर की जा रही है। फोटो में वो एयरपोर्ट पर लगेज बैग के साथ बाय-बाय करते दिख रहे हैं। बीजेपी के समर्थक तो उनके लिए टिकट खरीदने को तैयार है. ऐसे ही एक यूज़र ने लिखा कि मुनव्वर अब जहां भी जाना चाहते हैं वो उनके लिए टिकट खरीद कर देंगे।

सभी सांप्रदायिक ताकतों को झूठ साबित करते हुए बीजेपी ने उत्तर प्रदेश, गोवा, उत्तराखंड और मणिपुर में फिर से जीत हसिल की और सत्ता पर पुन:वापसी की।

आपकी प्रतिक्रिया...