—ताकि हम श्याम ची आई को समझ सकें

Continue Reading —ताकि हम श्याम ची आई को समझ सकें

‘श्याम ची आई’ को जानते हैं आप? मराठी के इन शब्दों का अर्थ है श्याम की मां। वैसे यह एक किताब का नाम है, जिसे साने गुरुजी ने लिखा था। यह एक मां की कहानी है। जो अपने बेटे को पढ़ाने-लिखाने के लिए जीवन की ढेर सारी विपत्तियों को झेलती है।

काश! भ्रष्टाचार चुनावी मुद्दा बन जाता…

Continue Reading काश! भ्रष्टाचार चुनावी मुद्दा बन जाता…

पांच राज्यों में होने वाले चुनावों में कौन जीतता है, यह निश्चित रुप से महत्वपूर्ण है, लेकिन इससे कहीं अधिक महत्वपूर्ण सवाल यह है कि वे कौन से मुद्दे हैं जो इन चुनावों के परिणामों को प्रभावित करेंगे।

आठवां फेरा बेटी का!

Continue Reading आठवां फेरा बेटी का!

संतोष नाम सुना होगा आपने। यह नाम लड़के का हो सकता है, तो लड़की का भी। नाम भले ही एक हो, लेकिन लड़के या लड़की को यह नाम देनेे के पीछे की मानसिकता एक नहीं हो सकती।

असंतोष का प्रेशर कुकर

Continue Reading असंतोष का प्रेशर कुकर

क्रिकेट में जीत वाली रात में देश भर के युवा और बूढ़े-बच्चे भी खुशी से झूम उठे थे और जिस तरह उस रात सड़कों-गलियों में तिरंगा फहराते हुए नाचे थे, उसे देखकर मेरे एक परिचित ने मोबाइल पर एसएमएस भेजा था: ‘‘काश,भ्रष्टाचार के मुद्दे पर भी देश ऐसे ही सड़कों पर उतर आये!’’

End of content

No more pages to load