सिख गुरु तेग बहादुर के बलिदान का विस्मरण

Continue Readingसिख गुरु तेग बहादुर के बलिदान का विस्मरण

भाई सती दास , भाई मती दास और भाई दयाला को नाना विघि यातनाएं देकर हत्या करने के बाद अंततः मुगलों ने गुरु तेग बहादुर जी की भी हत्या कर दी और सिर धड़ से अलग कर दिया । इसके बाद मृत शरीर को अपमानित करने के लिये शरीर के…

मुगलों से लोहा लेने वाले पेशवा बाजीराव बल्लाल

Continue Readingमुगलों से लोहा लेने वाले पेशवा बाजीराव बल्लाल

श्रीमन्त पेशवा बाजीराव बल्लाल एक वीर और महान सेनानायक थे इनके काल के दौरान मराठा राजा ने बहुत विस्तार किया। बाजीराव बल्लाल का जन्म 18 अगस्त 1700 को एक ब्राह्मण परिवार में हुआ था। मात्र 20 वर्ष की उम्र में ही इन्होने पेशवा का पद ग्रहण कर लिया था जो…

माई एहों पूत जण जेंहो दुर्गादास 

Continue Readingमाई एहों पूत जण जेंहो दुर्गादास 

भारतीय इतिहास में वीर शिरोमणि दुर्गादास के नाम को कभी परिचय की आवश्यकता नहीं रही. मारवाड़ के इस वीरपुत्र और मातृभूमि पर अपने सम्पूर्ण जीवन को न्यौछावर कर देने वाले जुझारू यौद्धा को केवल मारवाड़ की धरती और सम्पूर्ण देश में फैले राठौर बंधू ही नहीं बल्कि सम्पूर्ण हिंदू समाज…

End of content

No more pages to load