हिंदी विवेक : WE WORK FOR A BETTER WORLD...
एक समय की बात है | एक जंगल में आम के पेड़ पर एक बंदर रहता था | वह एक अच्छे स्वाभाव का बंदर था | लेकिन उसका कोई दोस्त नहीं था |
वह एक दोस्त बनाना चाहता था | एक दिन एक भालू खाने की खोज में इधर उधर घूम रहा था | अचानक उसे आम के पेड़ पर एक बंदर दिखा | उसने बंदर से कहा क्या तुम मुझे आम तोड़ कर दे सकते हो | बंदर ने उसे खूब सारे आम तोड़ कर दिये | भालू ने भर पेट आम खये | फिर बन्दर ने भालू से कहा क्या तुम मुझसे दोस्ती करोगे | भालू ने हाँ कर दी | अब दोनों दोस्त बन गए थे | ये दोनों खूब मजे में रहने लगे और जंगल में रहने वाले सभी
जानवरों की मदद करते | इनकी ख्याति दूर दूर फ़ैल गयी | इन लोगो की चर्चा  जंगल के राजा शेर ने सुनी तो शेर ने इन लोगो को पुरष्कार दिया |

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu
%d bloggers like this: