fbpx
हिंदी विवेक : WE WORK FOR A BETTER WORLD...

आरबीआई ने ब्याजदरों में की ऐतिहासिक कटौती, EMI पर मिलेगी 3 महीने की छूट

भारत सरकार के बाद आरबीआई ने भी लोगों के लिए राहत की खबर दी है। आरबीआई ने ब्याज दरों में कटौती करते हुए सभी को राहत दी है। आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी जानकारी दी। आरबीआई ने बताया कि वह रेपो रेट में 0.75 की कटौती कर रही है जिसके बाद रेपो रेट घट कर 4.40 फीसदी पर आ जाएगा। आरबीआई के इस फैसले से आम लोगों के साथ-साथ बैंकों को भी बड़ी राहत मिलेगी, जिसके बाद बैंक अब अपने ग्राहकों की ईएमआई भी कम करने का फैसला ले सकते हैं।  RBI के इस फैसले के बाद अब आम लोगों के घरों की ईएमआई भी कम हो सकती है। आरबीआई के इस फैसले के बाद रेपो रेट 5.15 से घटकर 4.45 फीसदी पर आ गया है। आरबीआई की तरफ से यह अब तक की सबसे बड़ी कटौती रही है। इससे पहले कभी भी भारतीय रिजर्व बैंक ने इतनी बड़ी कटौती नहीं की थी।
आरबीआई ने अपने दूसरे फैसले में रिजर्व रेपो रेट में भी 0.90 फ़ीसदी की कटौती की है और यह अब घटकर 4 फ़ीसदी पर आ गया है। रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि कोरोना वायरस की वजह से अर्थव्यवस्था को बड़ा खतरा हो सकता है जिस को ध्यान में रखते हुए मॉनेटरी पॉलिसी कमिटी ने अपने निर्धारित समय से पहले ही समीक्षा बैठक की, इस बैठक में इस कटौती को लेकर फैसला लिया गया जिसका आरबीआई गवर्नर ने आज मीडिया के सामने ऐलान किया।
आरबीआई गवर्नर ने बताया कि कोरोना की वजह से देश के कई क्षेत्रों में इसका बुरा असर पड़ रहा है जिससे भारतीय अर्थव्यवस्था को बड़ा खतरा हो सकता है और इसी को ध्यान में रखते हुए भारतीय रिजर्व बैंक ने ऐसे कदम उठाए हैं। आरबीआई ने बैंकों से अपील की है कि वह होम लोन या किसी भी तरह की EMI 3 महीने तक नहीं चुकाने पर कोई जुर्माना ना लगाए।
शक्ति कांत दास ने बताया कि दुनिया के बाकी बाजार भी आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं और इसके लिए कच्चे तेल के दामों में आई गिरावट और लगातार कम होती तेल की मांग भी जिम्मेदार है क्योंकि पूरी दुनिया में कोरोना वायरस की वजह से लोग घरों से नहीं निकल रहे हैं जिससे तेल की मांग में कमी आई है।
इससे पहले गुरुवार को सरकार की तरफ से वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने राहत पैकेज का ऐलान किया था जिसमें गरीबों, मजदूरों, महिलाओं और दिव्यांगों के लिए मुफ्त राशन और कुछ पैसे का बंदोबस्त किया गया है। इसके साथ ही सरकार ने लोगों से घरों में रहने की अपील की है। आप को बतादें कि देश में 21 दिनों का लॉक डाउन लगा हुआ है। भारत में करोना वायरस से पीड़ितो की संख्या 700 को बार कर चुकी है।

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu
%d bloggers like this: