fbpx
हिंदी विवेक : WE WORK FOR A BETTER WORLD...

योगी ने सुनी छात्रों की गुहार, कोटा के लिए रवाना की 252 बसें

कोरोना वायरस की वजह से कोटा में फंसे 7 हजार छात्र, छात्रों ने सरकार से लगाई मदद की गुहार, यूपी सरकार ने कोटा भेजी 252 बसें   
राजस्थान के कोटा में तैयारी कर रहे करीब 7 हजार छात्र अब अपने घर वापस लौट सकेंगे और इसके लिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने सराहनीय कदम उठाया है। कुछ मीडिया चैनलों पर कोटा के छात्रों का वीडियो चलाया जाता है जिसमें छात्र यह बताते हैं कि वह तैयारी करने के लिए कोटा आए थे लेकिन कोरोना वायरस की वजह से उनका स्कूल और क्लासेस बंद हो गए हैं। लॉक डाउन के बाद से छात्रों को खाने-पीने की भी परेशानी होने लगी है हालांकि उन्होंने खाने के लिए किसी को दोषी नहीं बताया बल्कि यह कहा कि अनाज उपलब्ध ना होने की वजह से हास्टल प्रशासन भी मजबूर है जिससे खाने की गुणवत्ता लगातार गिरती जा रही है।
इस विडियो में छात्र सरकार से घर जाने की अपील करते है जिसके बाद राजस्थान और उत्तर प्रदेश की सरकार हरकत में आ गयी। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तुरंत कार्यवाही करते हुए कुल 252 बसों को कोटा के लिए रवाना कर दिया। इसमें झांसी से 103 और आगरा से 150 बसें रवाना की गई। योगी सरकार के इस कदम के बाद यह उम्मीद की जा रही है कि छात्र जल्द ही अपने घर पहुंच जाएंगे। उत्तर प्रदेश सरकार के प्लान के मुताबिक सभी बसें कोटा में कोचिंग सेंटरो के आस पास अलग-अलग जगहों पर खड़ी की जाएगी जहां स्थानीय प्रशासन द्वारा छात्रों को बसों तक पहुंचाया जाएगा। सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए एक बस में करीब 25 से 30 बच्चों को बिठाया जाएगा। बसों में बैठने से पहले छात्रों को पूरी तरह से सैनिटाइज किया जाएगा, साथ ही मास्क, खाने का सामान और पीने के लिए पानी भी दिया जाएगा।
राजस्थान के कोटा में पूरे देश से आईआईटी के लिए छात्र तैयारी करने आते हैं। आंकड़ों के मुताबिक  40,000 से अधिक छात्र हॉस्टल और पीजी में रहते हैं लेकिन अचानक से बिगड़े हालात की वजह से अब इन छात्रों को समस्याओं से रूबरू होना पड़ रहा है। योगी के इस फैसले के बाद अब उम्मीद  है कि बाकी राज्य भी अपने छात्रों को जल्द से जल्द बुला लेंगे।

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu
%d bloggers like this: