हंदवाड़ा इनकाउंटर में दो आतंकियों की मौत, 5 जवान शहीद

  • जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़
  • दो आतंकियों को सेना ने मार गिराया
  • दो अधिकारियों सहित सेना के 5 जवान शहीद
  • घाटी के कुछ इलाकों में सेना पर पत्थरबाजी

 

देश कोरोना वायरस से जंग लड़ रहा है तो जम्मू कश्मीर में सेना के जवान आतंकियों से लोहा ले रहे है शनिवार को सेना और आतंकियों के बीच फिर से मुठभेड़ हुई जिसमें सेना ने दो आतंकियो को मार गिराया जबकि बाकी आतंकियो की तलाश अभी जारी है। मारे गये आतंकी जैश ए मोहम्मद के बताए जा रहे है। सेना को सूचना मिली कि कुपवाड़ा के हंदवाड़ा इलाके में आतंकी छिपे हुए है जिससे बाद सेना ने तुरंत उनकी तलाश शुरु कर दी और आखिरकार उनसे सेना का सामना हो गया और मुठभेड़ शुरु हो गयी। सेना ने हमला करते हुए दो आतंकियों को मार गिराया लेकिन इस दौरान सेना के दो अधिकारियों सहित 3 जवान शहीद हो गये है। इससे पहले यह जवान काफी समय तक लापता थे इन लोगों से सेना का संपर्क भी टूट चुका था।

 

सूत्रों के मुताबिक सेना के लापता जवान उस घर में घुसे जिस घर में आतंकी छिपे थे जिसके बाद से उनसे संपर्क टूट गया है और काफी समय तक किसी का भी पता नही था। सेना की तरफ से लापता जवानों की खोज बड़े स्तर पर शुरु कर दी गयी थी लेकिन अब खबर है कि लापता सभी जवान शहीद हो गये है। शहीद जवानों में दो अधिकारी और तीन अन्य जवान शामिल थे। इस दल में जम्मू कश्मीर पुलिस का एक जवान भी शामिल था। वहीं सेना ने अभी भी आतंकी ठिकानों को घेर रखा है ताकि किसी को बाहर जाने से रोका जा सके। सेना के द्वारा मिली सूचना के मुताबिक लॉक डाउन के दौरान जहां देश कोरोना की लड़ाई को लेकर व्यस्त है वहीं सीमा पार से घुसपैठ की कोशिश लगातार जारी है हालांकि सेना की तरफ से इसे हर बार नाकाम कर दिया जा रहा है। जानकारी के मुताबिक इस साल जनवरी से अब तक 60 से अधिक आतंकियों को मार गिराया गया है।

 

इससे पहले भी घाटी में कई बार सेना और आतंकियों के बीच हाल ही में मुठभेड़ देखने को मिली थी जिसमें सेना ने की बड़े आंतकी संगठनों के नेताओं को मार गिराया था हालांकि इस दौरान सेना के कई जवान भी शहीद हो गये थे। सेना की इस कार्रवाई के दौरान एक बार फिर से घाटी में पत्थरबाजी देखने को मिली और कुछ जगहों पर सेना के उपर पत्थरबाजी की गयी जबकि कोरोना वायरस को लेकर सेना लगातार स्थानीय लोगों की मदद में जुटी हुई है।

आपकी प्रतिक्रिया...