भारत में बना पहला 12000 हॉर्स पॉवर की क्षमता वाला इंजन

  • भारत में बना पहला 12000 हॉर्स पॉवर की क्षमता वाला इंजन
  • मेक इन इंडिया के तहत हुआ बिहार में इसका निर्माण 
  • 118 मालगाड़ी के डिब्बों को लेकर धनबाद हुआ रवाना
  • भारत बना भारी क्षमता इंजन बनाने वाला 6ठां देश 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मेक इन इंडिया पहल के तहत भारतीय रेलवे को एक बड़ी उपलब्धि हासिल हुई है। एक तरफ जहां पूरा देश कोरोनावायरस से जंग लड़ रहा है वहीं दूसरी तरफ भारतीय रेलवे को देश में बना हुआ पहला इंजन मिल गया। भारत में निर्मित 12000 हॉर्स पावर की क्षमता वाले इस इंजन का इस्तेमाल उत्तर प्रदेश के दीनदयाल उपाध्याय स्टेशन से धनबाद के बीच किया गया। इस दौरान यह इंजन 118 वाले मालगाड़ी डिब्बे को लेकर रवाना हुआ। इस दौरान यह इंजन लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र बना रहा क्योंकि इसका डिजाइन बेहद की आकर्षक है। तमाम सुविधाओं से लैस यह इंजन भारतीय रेलवे के लिए नई किरण लेकर आ गया है। रेलवे से मिली जानकारी के मुताबिक इस इंजन का इस्तेमाल माल ढुलाई के लिए किया जाएगा इसकी वजह से एक समय में ज्यादा डिब्बे जा सकेंगे जिससे ना सिर्फ सरकार को फायदा होगा बल्कि माल ढुलाई के किराए में भी कमी आएगी।

 12000 हॉर्स पॉवर के रेल इंजन की जानकारी     
बिहार की मधेपुरा इलेक्ट्रिक लोको फैक्ट्री में 12000 हॉर्स पावर वाले इस इंजन का निर्माण हुआ। इस इंजन को WAH12 नाम दिया गया है और इसका नंबर 60027 है। भारत में निर्मित इस इंजन का एक्सेल लोड 22.5 टन है लेकिन इसे 25 टन तक बढ़ाया जा सकता है। यह इंजन 120 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ सकता है और बाकी रेल इंजनों की तुलना में यह अधिक भार ढोने में भी सक्षम है। भारत में निर्मित यह इंजन GPS से पूरी तरह से लैस है जिसे किसी भी समय ट्रैक किया जा सकता है और किसी भी दुर्घटना को रोका जा सकता है।

 भारत फ्रांस के बीच समझौता 
सन 2015 में भारत ने मेक इन इंडिया के तहत फ्रांस की कंपनी एलस्टम से 25 हजार करोड़ रुपए का समझौता किया था। इस समझौते के तहत फ्रांस की कंपनी अगले 11 साल में 12000 हॉर्स पावर के 800 इलेक्ट्रॉनिक इंजन तैयार करेगी और इनका रखरखाव भी करेगी। जिसके तहत मंगलवार को भारत को 12000  हॉर्स पावर वाला पहला इलेक्ट्रॉनिक इंजन मिल गया। इस भारी भरकम इंजन का निर्माण करने वाला भारत छठा देश बन गया। इससे पहले विश्व के पांच और देश है जिनके पास ऐसे बड़ी क्षमता वाले इंजन मौजूद हैे।

आपकी प्रतिक्रिया...