आत्मनिर्भर भारत ही चीन की काट-जून २०२०- सप्ताह चार

हिंदी विवेक के इस साप्ताहिक अंक में भारत-चीन तनाव व संघर्ष के संबंध में ‘ आत्मनिर्भरता ही चीन के प्रतिकार का अस्त्र’, ‘चीन की प्रकृति है दगाबाजी व दोगलाई’ तथा ‘धोखेबाज चीन को सबक सीखने का मौका’ नामक शीर्षक से प्रकाशित आलेख वास्तविकता से अवगत कराते है। इन आलेखों के द्वारा चीन से निपटने के कुछ तरीके बताए गए हैं। इसके अलावा कोरोना वायरस से बचाव के लिए कुछ जरूरी सावधानियां, कोरोना का मन पर बुरा असर एवं कोरोना से लड़ने में सहायक है योग विषय पर बेहतरीन प्रासंगिक आलेख पाठकों की सुरक्षा की दृष्टि से प्रस्तुत किये गए हैं। इसके साथ ही सिनेमा में अंदरूनी राजनीति और फिल्म जगत का काला मायाजाल  की हकीकत उजागर की गई है। सूर्य ग्रहण एवं प्राकृतिक आपदा और प्रेरक कहानी सहित मनोरंजन के लिए व्यंग को इस अंक में समाहित किया गया है। उम्मीद है पाठकों को यह अंक बहुत पसंद आएगा। हिंदी विवेक पढ़े – पढ़ाये और अपनी जागरूकता बढ़ाए।

आपकी प्रतिक्रिया...