भारत में बड़े हमले को NIA ने किया नाकाम, 200 आतंकी अब भी भारत के लिए खतरा!

NIA

संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट सच साबित हुई
संयुक्त राष्ट्र ने करीब 2 महीने पहले एक रिपोर्ट जारी कर भारत को सजग किया था कि बड़ी संख्या में केरल और कर्नाटक में आतंकी हो सकते है। यूएन की तरफ से यह भी कहा गया था कि इन शहरों से देश के अलग अलग स्थानों पर हमले की साज़िश भी रची जा सकती है। यूएन की इस रिपोर्ट को शायद देश की जनता ने भले ही सिर्फ एक समाचार के तौर पर देखा हो लेकिन सरकारी एजेंसियों ने इस रिपोर्ट के बाद अपने आँख और कान खोल दिये जिसका नतीजा यह हुआ कि एजेंसियों ने पश्चिम बंगाल और केरल से 9 आतंकी गिरफ्तार कर लिये। 
 
NIA को बड़ी कामयाबी
पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद और केरल के एर्नाकुलम से NIA ने अलक़ायदा के 9 आतंकियों को गिरफ्तार किया है। सूत्रों के मुताबिक सभी आतंकवादियों को पाकिस्तान से सोशल मीडिया के जरिये आतंकवाद का पाठ पढ़ाया गया और कट्टरपंथी बनाया गया। फिलहाल में यह आतंकवादी धन उगाही के काम में लगे हुए थे और इसके बाद यह लोग दिल्ली जाकर वहां से हथियार और गोलाबारुद लाने की तैयारी में भी थे। पश्चिम बंगाल और केरल के सभी आतंकवादियों को देश के अलग अलग इलाकों में धमाके करने का काम सौंपा गया था जिसमें दिल्ली और एनसीआर का नाम भी शामिल था। एनआईए की कार्रवाई में इन आतंकीयों के पास से डिजिटल डिवाइस, जिहादी साहित्य, धारदार हथियार, फायर आर्म्स और कई महत्त्वपूर्ण दस्तावेज़ मिले है। फिलहाल में NIA की कार्रवाई जारी है।


आतंकियों में मोदी का खौफ़

भारत में जब से मोदी सरकार ने सत्ता संभाली है तब से आतंकी मंसूबे रखने वालों की एक भी चाल कामयाब नहीं हो रही है और तमाम कोशिश के बाद भी आतंकी हमलों को बार बार विफल किया जा चुका है। पहले जम्मू कश्मीर को आतंकी अपना पुश्तैनी अड्डा बना वहां से सभी गतिविधियों को संचालित करते थे और पाकिस्तान से आये आदेश के अनुसार आतंकी घटनाओं को अंजाम दिया जाता था। घाटी से धारा 370 हटने के बाद से वहां से आतंकी गतिविधियों को पूरी तेजी से खत्म किया गया और सेना ने ऑपरेशन क्लीन के तहत घीट से आतंकियों का सफाया कर दिया।
 
भारत में छिपे है 200 आतंकी!
आतंकियों की तरफ से पिछले काफी समय से यह प्रयास किया जा रहा है कि वह भारत में अपनी जड़े मजबूत कर सके। सन 2019 में आतंकियों की तरफ से यह दावा किया गया था कि वह भारत में विलायाह ऑफ हिंद स्थापित करने में कामयाब हो गया है। जम्मू कश्मीर में अलक़ायदा से ही जुड़े एक आतंकी को सेना ने मार गिराया था जिसके बाद आतंकियो की तरफ से यह दावा किया गया था। वहीं कुछ सूत्रों की मानें तो भारत में अलग अलग स्थानों पर करीब 200 आतंकी छिपे हुए है। 

आपकी प्रतिक्रिया...