‘नाग’ मिसाइल का सफल परीक्षण

भारत लगातार एक के बाद मिसाइल का सफल परीक्षण करते जा रहा है इस परीक्षण से जहां देश की ताकत लगातार बढ़ती जा रही है तो वहीं दूसरी तरफ दुश्मन भी भारत पर हमला करने से पहले कई बार सोचने को मजबूर हो रहा है। गुरुवार को भारत ने पोखरण में एक मिसाइल का सफल परीक्षण किया। राजस्थान के पोखरण में सुबह 6.45 बजे नाग एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल का सफल परीक्षण किया गया। पोखरण के फील्ड फायरिंग रेंज से किया गया यह परीक्षण पूरी तरह से सफल रहा। 
 
नाग एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल पूरी तरह से स्वदेशी है और इसे रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) ने तैयार किया है। डीआरडीओ की तरफ से लगातार मिसाइलों का परीक्षण जारी है और करीब डेढ़ महीनें कुल 12 सफल परीक्षण किये जा चुके है। इससे पहले डीआरडीओ के प्रमुख सतीश रेड्डी ने एक बयान में कहा था कि वह भारत को मिसाइल क्षेत्र में पूरी तरह से आत्मनिर्भर बनाना चाहते है। इसके साथ ही उन्होने सरकार को यह भी आश्वासन दिया था कि डीआरडीओ देश की सेना को किसी भी तरह की मिसाइल मुहैया करा सकती है। 
 
भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आत्मनिर्भर का नारा भी ऐसा समय में दिया गया है जब चीन भारत पर गलत नजर लगाए हुए है। पीएम मोदी के भाषण के बाद से जहां भारत के युवा तेजी से आत्मनिर्भर होना चाहते है तो वहीं कुछ सरकारी और गैर सरकारी संस्थान भी आत्मनिर्भर को अपने अपने तरीके से बढ़ावा दे रहे है। डीआरडीओ भी आत्मनिर्भर के रास्ते पर तेजी से आगे बढ़ रहा है और मिसाइल क्षेत्र में भारत को पूरी तरह से आत्मनिर्भर बनाने पर तुला हुआ है। 

आपकी प्रतिक्रिया...