मुंगेर में लाठी चार्ज के बाद भड़की भीड़, पुलिस स्टेशन को किया आग के हवाले

बिहार के मुंगेर में दुर्गा समिति के लोगों पर पुलिस को लाठी चार्ज करना महंगा पड़ रहा है क्योंकि जैसे ही यह वीडियो वायरल हुआ लोग इसका विरोध करना शुरु कर दिये। गुरुवार को मुंगेर में भारी संख्या में लोग पुलिस स्टेशन पहुंच गये और बासुदेव पुलिस चौकी को आग लगा दी और एसपी ऑफिस को भी भीड़ ने नुकसान पहुंचाया है। घटना के बाद बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है लेकिन भीड़ भी लगातार बढ़ती जा रही है। सोमवार को दुर्गा विसर्जन के दौरान पुलिस और समिति के लोगों के बीच झड़प हुई थी जिसके बाद पुलिस ने पहले जम कर लाठी चलायी और फिर गोली भी चालाई जिससे एक भक्त की मौत हो गयी। धीरे धीरे इसका वीडियो वायरल होने लगा और लोगों में पुलिस के खिलाफ गुस्सा फूट गया।

पुलिस फायरिंग में हुई मौत को लेकर पुलिस की तरफ से सफाई दी गयी कि मौत जनता के बीच हुए पथराव की वजह से हुई है जबकि स्थानीय लोगों का कहना है कि पुलिस की फायरिंग में अनुराग नाम के युवक की मौत हो गयी है। बुधवार को मतदान के बाद सुरक्षा बल निकल गये जिसके बाद लोग इकट्ठा होना शुरु हो गये और करीब 25 से 30 हजार लोग एक साथ इसका विरोध करने लगे। पुलिस ने लोगों को शांत कराने के लिए हल्का बल प्रयोग किया जिससे लोग शांत होने की जगह और भी उग्र हो गये और एसपी ऑफिस पर पथराव शुरु कर दिया। सड़कों पर भी आगजनी की घटना देखने को मिल रही है।

पुलिस की तरफ से गोली कांड को लेकर बयान जारी किया गया है कि इस मामले की जांच के आदेश दिये गये है और इस मामले में जो लोग दोषी पाये जायेंगे उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जायेगी। पुलिस ने बताया कि मूर्ति विसर्जन के दौरान वहां हालात बिगड़ गये थे जिसके बाद पुलिस को कार्रवाई करनी पड़ी लेकिन यह हालात क्यों बिगड़े और इसके लिए कौन जिम्मेदार है यह जांच में साफ हो जायेगा।

इस घटना को चुनाव से भी जोड़ कर देखा जा रहा है और यह दावा किया जा रहा है कि बिहार में होने वाले आगामी मतदान को इससे प्रभावित करने की कोशिश की जा रही है। मुंगेर के वायरल वीडियो में साफ तौर पर दिख रहा है कि किस तरह से दुर्गा पूजा समिति के लोगों पर पुलिस लाठी से वार कर रही है जबकि इस मामले में समिति के लोगों का कहना है कि उनकी तरफ से कोई भी हिंसा नहीं हुई थी। अगर समिति के लोगों का कहना सही है तो फिर आखिर पुलिस ने किस के आदेश पर लाठी चार्ज किया।

आपकी प्रतिक्रिया...