कोरोना ने बिगाड़ा नये साल का जश्न, नाइट कर्फ्यू रहेगा जारी

हर साल की तरफ इस बार नये साल की धूम देखने को नहीं मिलने वाली है क्योंकि कोरोना ने यह साल ही खराब कर दिया है। साल के शुरुआती ढाई महीने सिर्फ अच्छे से बीते थे कि अचानक से कोरोना ने पूरे विश्व को अपनी चपेट में ले लिया और फिर लोगों को यह समझने में पूरा साल निकल गया कि कोरोना कब जायेगा और इसकी दवा कर आयेगी।
 
कोरोना की वजह से पूरे साल का कोई भी त्यौहार नहीं मनाया गया हालांकि जून के बाद से लॉकडाउन खुलना शुरु हुआ जिसके बाद यह लगने लगा था कि अब जीवन सामान्य होगा और यह पटरी पर लौटने लगेगा लेकिन साल के अंत समय में कोरोना का एक नया प्रकार फिर से सक्रिय हो गया। जिसकी वजह से एक बार फिर से जनजीवन ठप हो सकता है। वहीं इस कोरोना की वजह से नये साल का जश्न भी ठंडा होता नजर आ रहा है। ज्यादातर राज्य सरकारें लॉकडाउन को आगे बढ़ा रही है और कड़े नियमों के साथ नये साल को मनाने से मना कर रही है। 
प्रशासन नये साल की गाइड लाइन को लेकर पूरी तरह से तैयार है और आयोजकों को भी इस बात का नोटिस दिया गया है कि वह पूरी सावधानी के साथ ही कार्यक्रम करेंगे और किसी भी तरह की लापरवाही के लिए वह स्वंय जिम्मेदार होंगे। नये साल के दिन कई राज्यों में शराब बैन कर दिया गया है जबकि कई राज्यों में नाइट कर्फ्यू बढ़ा दिया गया है। 
नई दिल्ली
राजधानी दिल्ली में नये साल के जश्न पर पाबंदी लगा दी गयी है। पब्लिक प्लेस पर 5 से ज्यादा लोग इकट्ठा नहीं हो सकते है। राजधानी में नये साल के नाम पर कोई भी कार्यक्रम नही होगा इसके लिए राज्य सरकार की तरफ से गाइड लाइन जारी की गयी है। 31 दिसंबर 2020 की रात 11 बजे से लेकर 1 जनवरी 2021 सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा। सरकार के मुताबिक नये साल के जश्न में भारी भीड़ जमा हो सकती है जिससे संक्रमण के बढ़ने का खतरा रहेगा। अगर सरकार लोगों को बाहर निकलने और कार्यक्रम करने का आदेश जारी करती है तो इससे पिछले कई महीनों की मेहनत पर पानी फिर सकता है।
महाराष्ट्र
कोरोना खतरे को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार ने लॉकडाउन को 31 जनवरी 2021 तक के लिए बढ़ा दिया है। नये साल के लिए गाइड लाइन जारी करते हुए सरकार ने सभी से बाहर कम निकलने की अपील की है। सरकार की तरफ से कहा गया है कि नये साल के जश्न को घर पर ही मनाने का प्रयास करें जिससे संक्रमण को रोका जा सके। राज्य सरकार की तरफ से 31 दिसंबर 2020 को भी रात 11 बजे तक ही होटल, रेस्ट्रा और पब को खुलने की परमिशन दी है। रात 11 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू जारी रहेगा। घर पर 11 बजे के बाद भी पार्टी जारी रख सकते है लेकिन इस दौरान कोरोना गाइड लाइन का ध्यान रखना होगा। पब्लिक प्लेस पर 5 लोगों से ज्यादा लोग इकट्ठा नहीं हो सकते है। कार में एक साथ 4 लोग ही यात्रा कर सकते है।
उत्तर प्रदेश 
उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से नये साल पर कार्यक्रम की छूट दी गयी है लेकिन इसके लिए भी कड़े नियम तैयार किये गये है। सरकार ने किसी भी कार्यक्रम के लिए जिलाधिकारी या कमिश्नरेट की परमिशन को अनिवार्य किया है। इस दौरान कार्यक्रम की अनुमति से पहले जिलाधिकारी को आयोजक की पूरी जानकारी लेने और कुल संख्या का भी आंकड़ा लेने के लिए कहा है। कार्यक्रम के आयोजक को यह सुनिश्चित करना होगा कि कार्यक्रम की पूरी ज़िम्मेदारी उसे उठानी होगी और किसी भी गलती या अनहोनी के लिए आयोजन पूरी तरह से जिम्मेदार होगा।
गोवा 
कोरोना महामारी के कारण गोवा करीब पूरे साल बंद रहा जिसकी वजह से ना सिर्फ कई लोग बेरोज़गार हुए बल्कि व्यवसाय करने वाले लोगों को भी बड़े स्तर पर नुकसान हुआ है। कुछ महीनों से संक्रमण में सुधार हो रहा था जिससे यह उम्मीद जगी थी कि साल के अंत तक गोवा में सब कुछ सामान्य हो जायेगा और नये साल के लिए पार्टी की जा सकेगी लेकिन अंत समय में इंग्लैड में मिले वायरस की वजह से हवाई सेवा बंद कर दी गयी है जिससे गोवा में नये साल का जश्न फीका होता नजर आ रहा है।

आपकी प्रतिक्रिया...