सौ साल का जायका – बेडेकर

Continue Readingसौ साल का जायका – बेडेकर

‘बेडेकर’ नाम जनमानस में इस तरह से बैठ गया है कि उच्चारण करते ही अचार और मसाला स्मरण हो आता है। वस्तुत: बेडेकर अचार व मसाला का समानार्थी शब्द हो गया है। यह गौरव का विषय है कि विगत एक शताब्दी से एक उद्योग के रूप में बेडेकर लोकप्रियता में दिनोंदिन बढ़ता ही जा रहा है।

कर्मवीर सुजय कुलकर्णी

Continue Readingकर्मवीर सुजय कुलकर्णी

सुजय कुलकर्णी इस समय आशिदा में सबसे कम आयु के डायरेक्टर हैं। उनका पूरा परिवार उच्च शिक्षा प्राप्त है। बड़े भाई श्री सुयश कुलकर्णी हार्डवेयर कम्प्यूटर इंजीनियर हैं। उन्होंने आशिदा का रिले डेवलप किया था। अपने बड़े भाई का प्रभाव सुजय कुलकर्णी पर बहुत गहरा पड़ा।

End of content

No more pages to load