जोल्ले चेरिटी फाउंडेशन का अभूतपूर्व सेवाकार्य

Continue Readingजोल्ले चेरिटी फाउंडेशन का अभूतपूर्व सेवाकार्य

कोरोना महामारी और लॉक डाउन ने सभी लोगों की आर्थिक स्थिति ख़राब कर दी है। कर्नाटक राज्य में भी लोगों का बुरा हाल हो गया था। संकट के इस समय में जोल्ले चेरिटी फाउंडेशन ने अभूतपूर्व सेवा कार्य कर लोगों को राहत प्रदान की। जिससे नागरिकों के चेहरे पर मुस्कान आई।

प्रगति की ओर अग्रसर मर्दा ग्रुप

Continue Readingप्रगति की ओर अग्रसर मर्दा ग्रुप

मर्दा बंधुओं ने अरविंद ब्राण्ड धोती के व्यवसाय पर अपना ध्यान केंद्रित किया और उसके लिये खूब मेहनत की। रणनीतिक और तकनीकी रुपसे परिश्रम कर उन्होंने अपने व्यापार को पुरे भारतवर्ष में फैलाया। कुछ ही समय में धोती किंग के रुप में विख्यात हुए। उस समय धोती बहुत ही लोकप्रिय वस्त्र हुआ करता था, जिसे भारत के ह्रदय को छुने वाला वस्त्र भी माना जाता था।

मोहे रंग दे…

Continue Readingमोहे रंग दे…

हजारों साल पहले से ही भारत सहित दुनिया के अनेक देशों में गोदना गुदवाने की प्रथा परंपरा के रूप में चली आ रही है। यह कहना अतिशयोक्ति नहीं होगी कि पुरानी परंपरा ही अब नए लेटेस्ट वर्जन में टैटू के रूप में सामने आई है, जिसकी पूरी दुनिया दीवानी होती जा रही है।

पूरी संवेदना के साथ रुग्ण चिकित्सा

Continue Readingपूरी संवेदना के साथ रुग्ण चिकित्सा

अत्याधुनिक साधनों और टेक्नोलॉजी से अस्पतालों मे बहुत परिवर्तन आए हैं। जेनेरिक दवाओं का नया क्षेत्र विकसित हो रहा है, जो लोगों को सस्ती और उतनी ही प्रभावी दवाएं उपलब्ध कराता है। हरिलाल जयचंद दोशी घाटकोपर हिंदू सभा रुग्णालय नामक चैरिटेबल अस्पताल में जेनेरिक मेडिकल स्टोर के उद्घाटन के अवसर पर ट्रस्ट के श्री मगनभाई दोशी जी से हुई बातचीत के महत्वपूर्ण प्रस्तुत हैं-

त्रिपुरा चौतरफा विकास की ओर अग्रसर

Continue Readingत्रिपुरा चौतरफा विकास की ओर अग्रसर

त्रिपुरा ने कम्युनिस्टों का 25 साल पुराना शासन ध्वस्त कर दिया है। पूर्वोत्तर में यह एक चमत्कार ही है। वहां अब भाजपा की सरकार है। प्रस्तुत है त्रिपुरा की समस्याओं, विकास योजनाओं, कम्युनिस्टों की स्थिति, 2019 के लोकसभा चुनाव और राजनीति के बारे में मुख्यमंत्री बिप्लव देब से हुई बेबाक बातचीत के महत्वपूर्ण अंशः-

पर्यावरण के लिए संकल्पित ‘सीईटीपी’

Continue Readingपर्यावरण के लिए संकल्पित ‘सीईटीपी’

इस सीईटीपी की कुल क्षमता २७ एमएलडी है (१२ एमएलडी क्षमता का प्लांट १९९७ में स्थापित किया गया है और १५ एमएलडी प्लांट की अतिरिक्त क्षमता २००६ में परिचालित की गई।) यह केंद्र लगातार सभी निर्धारित मानदंडों को लगातार पूरा कर रहा है

जी.एन.आई.इन्फ्रास्ट्रक्चर का सुयश

Continue Readingजी.एन.आई.इन्फ्रास्ट्रक्चर का सुयश

महाराष्ट्र की पुण्य भूमि देश भर के कर्मशील प्रवृत्ति के लोगों को अपनी ओर आकर्षित ही नहीं करती अपितु उनकी महत्वाकांक्षा का भरपूर पोषण भी करती है। यहां की व्यावसायिक उर्वरा प्रवृत्ति से आकर्षित होकर तत्कालीन पंजाब के रावलपिंडी से आकर संभाजीनगर में बसने वाले

नौपरिवहन का प्रतिनिधि जे.एन.पी.टी.

Continue Readingनौपरिवहन का प्रतिनिधि जे.एन.पी.टी.

देश की नौ परिवहन क्षमता के ४६ प्रतिशत का संवहन करने वाला जवाहरलाल नेहरू पोर्ट ट्रस्ट भी अपने अपको प्रधानमंत्री जी की राष्ट्र विकास की संकल्पना के अनुसार ढाल रहा है। जेएनपीटी के चेयरमैन अनिल डिग्गिकर ने हिंदी विवेक से अपनी राय साझा की: जेएनपीटी का चेयर

महालक्ष्मी मंदिर के सेवा कार्य

Continue Readingमहालक्ष्मी मंदिर के सेवा कार्य

महालक्ष्मी मंदित के माध्यम से दो प्रकार के कार्य किए जाते हैं। धार्मिक कार्य तथा सेवा कार्य। धार्मिक कार्यों में देवी की पूजा, अर्चना, नवरात्र उत्सव, अश्विन और माघ मास में उत्सव आदि होते हैं। उत्सवों में विभिन्न कार्यक्रम किए जाते हैं। मंदिर के द्वारा किए जानेवाले सेवा कार्य भी बहुत हैं। मंदिर के माध्यम से प्रतिवर्ष 8 से 9 हजार विद्यार्थियों को स्कॉलरोशप दी जाती है।

‘पहलवान पैठणी’ का तो कोई सानी नहीं

Continue Reading‘पहलवान पैठणी’ का तो कोई सानी नहीं

पैठणी अर्थात साड़ियों की महारानी और महाराष्ट्र के नासिक जिले का येवला शहर उत्तम और बेहतरीन पैठणी मिलने वाला शहर। येवला महाराष्ट्र के चार जिलों नासिक, औरंगाबाद, धुलिया तथा अहमदनगर से जुड़ा हुआ है। येवला शहर में पिछले 200 सालों से पहलवान परिवार पैठणी साड़ी का व्यवसाय कर रहा है। उनके इस पारम्परिक व्यवसाय के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे प्रतिनिधि प्रशांत मानकुमरे ने रमाकांत विट्ठल पहलवान तथा उनके सुपुत्र मनीष रमाकांत पहलवान से विशेष बातचीत की। प्रस्तुत हैं उसके कुछ प्रमुख अंश।

इनर लाइन परमिट

Continue Readingइनर लाइन परमिट

स्वतंत्र भारत का हिस्सा है, फिर भी वहां से मिजोराम, नागालैण्ड और अरुणाचल प्रदेश में जाने के लिए इनर लाइन परमिट (आंतरिक यात्रा अनुमति पत्र) लेना पड़ता है। यह सिर्फ सुनने के लिए आसान है, पर यह परमिट प्राप्त कर

भक्ति कला क्षेत्र का अद्भुत संगीत

Continue Readingभक्ति कला क्षेत्र का अद्भुत संगीत

मेरे जीवन में आए बदलाव में ‘इस्कॉन’ संगीत का अत्यंत मौलिक योगदान है। संगीत ध्यान है। साथ ही जीवन को सकारात्मक रूप में परिवर्तित करने का साधन भी है। मैंने इस संगीत को जब पहली बार सुना, साधकों को ‘हरे राम....हरे कृष्ण....हरे हरे’ की धुन पर झूमते देखा तब मैं उनकी ओर खिंचता चला गया। -मधुसूदन सिंगड़ोदिया

End of content

No more pages to load