जानिए सीतारमण ने क्या क्या दी छूट……….

कोरोना वायरस को लेकर हर तरफ हालात खराब बने हुए हैं आम जनता से लेकर शेयर बाजार हर तरफ निराशा ही देखने को मिल रही है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर लोगों को थोड़ी राहत दी। सरकार ने सभी को राहत देते हुए पिछले वित्त वर्ष यानी 2018-19 के लिए इनकम टैक्स भरने की तारीख 31 मार्च से बढ़ाकर 30 जून कर दिया। इस नई तारीख से लोगों को राहत मिली है वर्ना इस मुश्किल हालात में इनकम टैक्स भरना कुछ लोगों के लिए बहुत मुश्किल था।

वित्त मंत्री ने आधार कार्ड और पैन कार्ड को लिंक करने की डेडलाइन भी 31 मार्च से 3 महीने बढ़ाकर 30 जून तक कर दी है। इस दौरान वित्त मंत्री ने बताया कि इस बार देर से रिटर्न फाइल करने पर 12 फ़ीसदी की जगह 9 फ़ीसदी ब्याज देना पड़ेगा। GST फाइलिंग को लेकर भी समय सीमा को 30 जून तक बढ़ा दिया गया है। इससे छोटे और मध्यम वर्ग के कारोबारियों को राहत मिल सकेगी।
निर्मला सीतारमण ने अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस बात का ऐलान किया कि सरकार की तरफ से जल्द ही आर्थिक पैकेज का भी ऐलान किया जाएगा, जिससे आम लोगों के साथ-साथ कारोबारियों को भी इससे राहत मिलेगी। कोरोना वायरस की वजह से बाजार के हालात अच्छे नहीं है ऐसे में सभी कारोबारी चिंता में डूबे हुए है।
वित्त मंत्री के विशेष ऐलान-
1. TDS पर ब्याज 9 प्रतिशत लगेगा जबकि पहले यह 18 प्रतिशत लगता था।
2. मार्च-अप्रैल और मई का जीएसटी रिटर्न भरने की तारीख 30 जून तक बढ़ाई गई। 
3. आधार कार्ड और पैन कार्ड को लिंक करने की तारीख अब 31 मार्च की जगह 30 जून कर दी गई। 
4.  5 करोड़ तक टर्नओवर वाली कंपनियों के लिए जीएसटी रिटर्न फाइल में देरी पर कोई जुर्माना नहीं लगेगा।
5.  इनकम टैक्स भरने की आखिरी तारीख 30 जून 2020 हो गयी।
6. 3 महीने तक किसी भी ATM से पैसे निकालने पर चार्ज नहीं लगेगा।
भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या करीब 500 को पार कर चुकी है जिसमें अब तक 9 लोगों की मौत भी हो चुकी है। देश के करीब 560 से अधिक जिलों को लॉक डाउन कर दिया गया है। जबकि कई राज्यों में पूरी तरह से कर्फ्यू लगा दिया गया है।

आपकी प्रतिक्रिया...