1.70 लाख करोड़ राहत का ऐलान, किस किस को मिलेगा फायदा?

कोरोना वायरस की वजह से आम जनता के साथ साथ बाजारों की हालत भी खराब चल रही है जिससे उम्मीद लगाई जा रही है कि कोरोना वायरस के खत्म हो जाने के बाद भी बाजारों को सुधारने में समय लगेगा और इसका असर आम जनता पर भी पड़ सकता है।
इसी बीच सरकार की तरफ से राहत का ऐलान किया गया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गरीब कल्याण योजना के तहत 1.70 लाख करोड़ की मदद का ऐलान किया है। इस ऐलान से जहां आम जनता खुश है वहीं इससे बाजारों के भी संभलने की उम्मीद जताई जा रही है। सरकार के इस ऐलान में मजदूर, गरीब, दिव्यांग, महिला, विधवा और बुजुर्गों का ख्याल रखा गया है। कुल मिलाकर वह लोग जिनकी कमाई औसत से कम होती है और यह लोग अपनी रोजमर्रा की कमाई से ही अपना जीवन यापन करते हैं।
वित्त मंत्री के ऐलान-
1. मनरेगा मजदूरों की दिहाड़ी को सरकार ने ₹182  रुपये से बढ़ाकर ₹202 रुपये कर दिया है। सरकारी आंकड़े के मुताबिक इससे करीब 5 करोड़ परिवार को फायदा मिलेगा।
2. इस एलान में बुजुर्गों, विधवाओं और दिव्यांगों के लिए ₹1000 रुपये अलग से दिए जाएंगे। अगले 3 महीने के लिए इन लोगों को यह सीधे इनके अकाउंट में ट्रांसफर किया जाएगा। इससे करीब तीन करोड़ लोगों को फायदा होगा। 
3. देश की करीब 20 करोड़ महिलाओं के खाते में अगले 3 महीने तक ₹500 प्रति महीने दिए जाएंगे यह पैसा सीधे उनके जनधन खाते में भेजा जाएगा। 
4. प्रधानमंत्री की उज्जवल योजना के तहत करीब 8 करोड़ बीपीएल परिवारों को 3 महीने तक मुफ्त में सिलेंडर दिया जाएगा। 
5. दीनदयाल योजना के तहत महिला स्वयं सहायता समूह को 20 लाख तक का लोन दिया जाएगा जबकि पहले इसकी सीमा ₹10 लाख रुपए तक ही थी। 
6. वित्त मंत्री ने अपने ऐलान में बताया कि 8.5 करोड़ किसानों को अप्रैल के पहले हफ्ते में ₹2000 दिए जाएंगे। यह पैसा किसान सम्मान निधि योजना के तहत दिया जा रहा है। इस योजना के तहत किसानों को सालाना ₹6000 दिए जाते हैं। 
7. सरकार की तरफ से कोरोना वायरस संक्रमण की इस मुश्किल घड़ी में जितने लोग भी काम कर रहे है उन्हे 50 लाख का लाइफ इंश्योरेंस कवर दिया जा रहा है। 
8. देश में लागू इस मुसीबत की घड़ी में कोई भूखा पेट ना रह सके, इसके लिए प्रधानमंत्री अन्य योजना के तहत 5 किलो अतिरिक्त गेहूं या चावल अगले 3 महीने तक मिलता रहेगा। इस योजना से करीब 80 करोड़ लोगों को फायदा मिलेगा। 
वहीं इससे पहले सरकार ने मध्यम और उच्च वर्ग के लिए भी राहत का ऐलान किया था। जिसमें इनकम टैक्स फाइल करने की समय सीमा बढ़ाकर 30 जून तक कर दी गई है। जबकि बैंकों में न्यूनतम बैलेंस रखने की सीमा हटा दी गई है। इसके साथ ही दूसरे एटीएम से पैसे निकालने पर लगने वाले चार्ज को भी हटा दिया गया है। देश को कोरोना वायरस से बचाने के लिए सरकार पूरी कोशिश के साथ लगी हुई है और जनता भी सरकार का समर्थन कर रही है। सरकार की तरफ से यह कोशिश लगातार जारी है कि देश के किसी भी जनमानस को कोई परेशानी ना हो।

This Post Has One Comment

  1. Sandeep mane

    Sabhi deshvasiyon ke liye acchhi yojana banayi hai.rahat dene wali yojana hai

आपकी प्रतिक्रिया...