fbpx
हिंदी विवेक : WE WORK FOR A BETTER WORLD...

मन की बात: देश की जनता से पीएम ने मांगी मांफी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को एक बार फिर देशवासियों से मन की बात की, इस दौरान उन्होंने कोरोना को लेकर कई विचार साझा किए और देश के उन तमाम लोगों से भी बात की जो कोरोना कि इस लड़ाई में लगातार डटे हुए हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने कुछ ऐसे लोगों से भी बात की जो हाल ही में कोरोना वायरस की लड़ाई जीत कर आए हैं। प्रधानमंत्री अपने संबोधन में भावुक होते भी नजर आए। उन्होंने अपने संबोधन की शुरुआत में ही देश की जनता से माफी मांगी। पीएम मोदी ने कहा कि उन्हें पता है कि उनके लॉक डाउन के फैसले से बहुत से लोगों को तकलीफ हो रही है लोग अपने घरों तक नहीं पहुंच पा रहे है लेकिन देश और लोगों के लिए यह जरूरी है। कोरोना वायरस लोगों की जिंदगी लेने पर तुला हुआ है। ऐसे में उससे बचने के लिए लॉक डाउन ही एक मात्र अंतिम उपाय है। मोदी के इस माफीनामें से यह कयास लगाए जा रहे हैं कि उन्होंने यह माफी उन मजदूरों से मांगी है जो लॉग डॉउन के दौरान दिल्ली और यूपी के बॉर्डर पर फंसे हुए हैं।
प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि मुझे पता है कि कुछ लोग मेरे इस फैसले से नाराज भी होंगे क्योंकि उनको अपनी निजी जिंदगी में परेशानी उठानी पड़ रही है लेकिन यह देश हित के लिए जरूरी है कोरोना से लड़ने के लिए यह कदम उठाना जरूरी है। मोदी ने कहा कि कोरोनावायरस से लड़ाई कठिन है इसलिए इससे लड़ने के लिए सरकार को कई बड़े और कड़े फैसले लेने पड़ रहे हैं ताकि देश की जनता अपने घरों में सुरक्षित रह सके।
मोदी ने देश के उन लोगों को कड़ी चेतावनी दी जो लोग कानून तोड़कर बाहर निकल रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि ऐसे लोग जो बेवजह बाहर निकल रहे हैं वह अपनी जिंदगी से खिलवाड़ कर रहे हैं और साथ ही समाज के लिए दुश्मन बन रहे हैं। ऐसे लोगों की वजह से ही हम लड़ाई हार सकते हैं।
मोदी ने मन की बात में डॉक्टरों से भी बातें की और उनके अनुभव को जनता के सामने रखा। पीएम मोदी ने कहा कि हमें ऐसे लोगों से प्रेरणा लेने की जरूरत है। डॉक्टर, नर्स और मेडिकल स्टाफ से हमें सीखना चाहिए कि वह बिना किसी स्वार्थ के लोगों की सेवा कर रहे हैं और ऐसे मुश्किल समय में भी वह अपने कर्तव्य के प्रति अडग है। वहीं भारत में लगातार कोरोनावायरस का संक्रमण बढ़ता जा रहा है अब तक पूरे देश में करीब 980 लोग संक्रमित हो चुके है जबकि 25 लोगों की मौत हो चुकी है। महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा संक्रमित लोग पाये गये है।

आपकी प्रतिक्रिया...

Close Menu
%d bloggers like this: