थोड़ी सी मिली है सफलता, अभी बहुत है बाकी

Continue Reading थोड़ी सी मिली है सफलता, अभी बहुत है बाकी

सुपर मॉम मेरी कोम ने महिलाओं के 51 किलो वर्ग में ह्युनोशिया की मारौली राहाली को 6-15 से हराया। पुरुषों का खेल माने जाने वाले बॉक्सिंग में मुक्केबाजी में कांस्य पदक दिलाकर भारत की महान नारी बन गयीं।

जगज्जेता भारतीय महिला कबड्डी टीम

Continue Reading जगज्जेता भारतीय महिला कबड्डी टीम

बिहार-पटना के पाटलीपुत्र क्रीडा संकुल में महिला विश्वचषक कबड्डी स्पर्धा 2 मार्च से 4 मार्च 2012 तक संपन्न हुई। बिहार राज्य स्थापना दिन के अवसर पर बिहार कबड्डी असोसिएशन की ओर से इस स्पर्धा का आयोजन किया था।

विद्यालयों में नेचर क्लब

Continue Reading विद्यालयों में नेचर क्लब

पर्यावरण की दृष्टि से हर पदार्थ का सृष्टि संतुलन में अपना योगदान है- यह सीख ‘यंगेस्ट इंडिया’ के बीस करोड़ छात्रों को नेचर क्लब के जरिये समाझायें और प्रकृति और मानवता की रक्षा करें।

मानवी शिल्प की खूबसूरती

Continue Reading मानवी शिल्प की खूबसूरती

मुंबई के अंधेरी स्थित शहाजी राजे क्रीडा संकुल में अंतरराष्ट्रीय शरीरसौष्ठव प्रतियोगिता का शानदार आयोजन शनिवार 5 नवम्बर और रविवार 6 नवम्बर 2011 इन दो दिनों में किया था।

बरसो बाद जीत…

Continue Reading बरसो बाद जीत…

पाकिस्तानी टीमे कोच स्टेडियम की छत पर खड़े होकर भारतीय खिलाड़ियों को लगातार अपशब्द कहते रहे। भारतीय टीम से जब भी कोई मूव बनता तो वह भद्दी गाली देने लगते। जब अंपायर भारत के खिलाफ कोई निर्णय देते तो वे फुर्ती से ’थैंक्यू’ कहते थे।

ओलंपिक- कबड्डी

Continue Reading ओलंपिक- कबड्डी

आठ जून से 16 जून तक विजयवाडा में केपीएल अर्थात कबड्डी प्रीमियर लीग के शानदार मुकाबले हुए। भारत के क्रीड़ा इतिहास में 8 जून को एक सुवर्णाध्याय लिखा गया। कबड्डी असली देशी खेल है।

अब श्रवण कुमार कहां?

Continue Reading अब श्रवण कुमार कहां?

बुढापा व्यक्ति की विवशता होती है। कोई बुढ़ापे को नहीं चाहता मगर बुढ़ापा आता ही है। और उसे सहना, भोगना पड़ता ही है। बुढ़ापा व्यक्ति को निष्क्रिय बना देता है। जैन समाज के तेरापंथ के नवम आचार्य अणुव्रत अनुशास्ता गणाधिपति श्री तुलसी ने कहा था-

End of content

No more pages to load