भारतीय इतिहास के साथ एक सुनियोजित खिलवाड़

Continue Readingभारतीय इतिहास के साथ एक सुनियोजित खिलवाड़

भारतीय इतिहास की पाठय पुस्तकों में औरंगजेब और शिवाजी महाराज के संघर्ष के पश्चात चुनिन्दा घटनाओं को ही प्राथमिकता से बताया जाता हैं जैसे की नादिर शाह और अहमद शाह अब्दाली द्वारा भारत पर आक्रमण करना, प्लासी की लड़ाई में सिराज-उद-दौलाह की हार और अंग्रेजो का बंगाल पर राज होना…

पुण्यश्लोक मां अहिल्या महान (कविता)

Continue Readingपुण्यश्लोक मां अहिल्या महान (कविता)

इस तपोवन मे है बिखरी ज्योती एक तेजवान पुण्यश्लोक जननी है वो नाम अहिल्या है महान अहिल्या अहिल्या अहिल्या अहिल्या महान आशिष है शिवशंभू का करे ईश भी मंत्रोपचार छत्र धरे सर पर स्वयं जेजुरी मल्हार अहिल्या अहिल्या अहिल्या अहिल्या महान नित बरसता पुण्य यहां है नर्मदा मैया महान मालवा…

तपस्वी राजमाता अहिल्याबाई होल्कर

Continue Readingतपस्वी राजमाता अहिल्याबाई होल्कर

भारत में जिन महिलाओं का जीवन आदर्श, वीरता, त्याग तथा देशभक्ति के लिए सदा याद किया जाता है, उनमें रानी अहिल्याबाई होल्कर का नाम प्रमुख है। उनका जन्म 31 मई, 1725 को ग्राम छौंदी (अहमदनगर, महाराष्ट्र) में एक साधारण कृषक परिवार में हुआ था। इनके पिता श्री मानकोजी राव शिन्दे…

इस्लाम की आंधी को हिंदूओं ने अपने शौर्य से रोका

Continue Readingइस्लाम की आंधी को हिंदूओं ने अपने शौर्य से रोका

1400 साल पहले अरब से जब इस्लामिक आंधी उठी तो इसने कई राष्ट्रों और कई सभ्यताओं का नामोनिशान मिटा दिया। ईरान से पारसियों का साम्राज्य पर्शिया का नामोनिशान मिटा दिया, इराक के यजीदी दुनिया में अब ढूंढे नहीं मिलते हैं। अफ्रीका से लेकर एशिया तक कितने सभ्यताएं और कितने साम्राज्य…

धर्म के प्रति समर्पित धर्मवीर संभाजी महाराज

Continue Readingधर्म के प्रति समर्पित धर्मवीर संभाजी महाराज

धर्म और संस्कृति के लिये अपना सर्वस्व बलिदान करने वाले संभाजी महाराज की जयंती पर शत-शत नमन। संभाजी महाराज ने अपने कम समय के शासन काल में 210 युद्ध किये और इसमे एक प्रमुख बात ये थी कि उनकी सेना एक भी युद्ध में पराभूत नहीं हुई। शंभाजी राजे मराठा…

छत्रपति शिवाजी महाराज : हिंदुत्व के प्रहरी

Continue Readingछत्रपति शिवाजी महाराज : हिंदुत्व के प्रहरी

यह एक महान योद्धा और एक ऐसे नेता को उनकी जयंती पर याद करने का समय है, जिनके पास असाधारण गुण थे जिनकी तुलना किसी और के साथ नही की जा सकती।  शक्तिशाली, सनातन धर्मी, दृढ़निश्चयी, अपनत्व का प्रतीक, व्यावहारिक, सक्रिय, शुद्ध और धैर्यवान यह कुछ गुण हैं। जब हिंदुओं…

स्वाभिमान को जागृत करने वाली वीरांगना महारानी लक्ष्मीबाई

Continue Readingस्वाभिमान को जागृत करने वाली वीरांगना महारानी लक्ष्मीबाई

विरला ही कोई ऐसा होगा जो महारानी लक्ष्मीबाई के साहस, शौर्य एवं पराक्रम को पढ़-सुन विस्मित-चमत्कृत न होता हो! वे वीरता एवं संघर्ष की प्रतिमूर्त्ति थीं। उनका जन्म 19 नवंबर 1828 को वाराणसी में हुआ था। मात्र 29 वर्ष की अवस्था में अँग्रेजों से लड़ते हुए 18 जून, 1858 को…

खूब लड़ी मर्दानी वो तो झांसी वाली रानी थी

Continue Readingखूब लड़ी मर्दानी वो तो झांसी वाली रानी थी

भारतीय इतिहास वीर गाथाओं से भरा पड़ा है और आज जब  देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है तब इन गाथाओं को स्मरण कर इतिहास को जीवंत करना समीचीन है । महारानी लक्ष्मीबाई की गाथा ऐसी ही एक अनुपम वीरगाथा है । महारानी लक्ष्मीबाई उन महान क्रांतिकारी योद्धाओ में…

राजमाता सिंधिया:जेंडर की एक केस स्टडी भी…

Continue Readingराजमाता सिंधिया:जेंडर की एक केस स्टडी भी…

ग्वालियर के जिस जयविलास पैलेस को लोग दुनियाभर से देखने आते है उसे राजमाता विजयाराजे सिंधिया जीवाजी विश्वविद्यालय को दान करना चाहती  थी ताकि ग्वालियर रियासत के बच्चों को बेहतर उच्च शिक्षा मुहैया हो सके।जय विलास महल दुनिया के सबसे महंगे और आकर्षक महलों में एक है लेकिन राजमाता को…

मुगलों से लोहा लेने वाले पेशवा बाजीराव बल्लाल

Continue Readingमुगलों से लोहा लेने वाले पेशवा बाजीराव बल्लाल

श्रीमन्त पेशवा बाजीराव बल्लाल एक वीर और महान सेनानायक थे इनके काल के दौरान मराठा राजा ने बहुत विस्तार किया। बाजीराव बल्लाल का जन्म 18 अगस्त 1700 को एक ब्राह्मण परिवार में हुआ था। मात्र 20 वर्ष की उम्र में ही इन्होने पेशवा का पद ग्रहण कर लिया था जो…

छत्रपति शिवाजी राज्याभिषेक हुआ

Continue Readingछत्रपति शिवाजी राज्याभिषेक हुआ

राजदरबार का निर्माण किया गया। 32 मन के सोने से छत्र और राज सिंहासन का निर्माण किया गया। श्रीनृपशालिवाहन शक 1596, आनंदनाम संवत्सर ज्येष्ठ शुद्ध 13 शनिवार, सूर्योदय पूर्वं तीन घटका महाराज सिंहासन पर बैठे (6 जून 1674)। महाराज ने इस अवसर पर सबको कुछ-न-कुछ दिया। पूरे राज्याभिषेक पर 50 लाख रुपये का खर्च आया।

End of content

No more pages to load