कोरोना संकट में स्वयंसेवकों ने संभाला मोर्चा, दवा, खाना और अंतिम संस्कार तक में कर रहे मदद

कोरोना का कहर पूरे देश पर है और इस समय प्रशासन भी पूरी तरह से मदद करने में विफल हो रहा है क्योंकि कोई भी सरकार या प्रशासन ऐसी आपदा के लिए कभी तैयार ही नहीं थी और अगर आप बिना तैयारी के कोई काम करते है तो उसमें सफल हो पाना थोड़ा मुश्किल होता है। पूरे देश में संघ के कार्यकर्ता तेजी से अपना योगदान दे रहे है और प्रशासन की मदद कर रहे है। संघ की तरफ से भोजन, दवा और कोविड पीड़ित परिवारों को मदद दी जा रही है। इस संकट के समय में जहां परिवार को कोई सदस्य अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रहा है तो वहीं उसका परिवार भी चिंता और आर्थिक बदहाली में पहुंच जा रहा है ऐसे में संघ इस तरह से परिवार की भी मदद कर रहा है।

कोरोना महामारी के बीच में संघ लगातार सेवा कार्य कर रहा है और इसमें स्वयंसेवक लगातार अपना सहयोग दे रहे है। पूरे देश में अलग अलग लोगों के सहयोग से यह कार्य किया जा रहा है और जरूरत के अनुसार सुविधा मुहैया करायी जा रही है। किसी को ऑक्सीजन तो किसी को भोजन, कहीं दवा तो कहीं पीड़ित के परिवार तक भोजन की व्यवस्था की जा रही है। संघ का सिर्फ एक ही मकसद है कि किसी को भी कोई तकलीफ हो तो संघ उसके पास तक पहुंच सके। संघ के इस सेवा कार्य को देखते हुए समाज के तमाम लोग भी इससे जुड़ रहे है और खुद भी मदद में सहयोग कर रहे है।

यह वह मुश्किल दौर है जब लोग अपनों का साथ छोड़ दे रहे है लेकिन संघ के स्वयंसेवक समाज का साथ नहीं छोड़ रहे है और अपनी जान जोखिम में डालकर समाज की सेवा कर रहे है। खबरों में ऐसी तमाम घटनाएं देखने को मिल रही है जहां लोग संक्रमण के डर से अपने ही माता-पिता को छोड़ दे रहे है और उनका अंतिम संस्कार नहीं कर रहे है। वहीं घर का कोई सदस्य संक्रमित होता है तो घर के बाकी लोग उससे दूरी बना ले रहे है। ऐसी तमाम घटनाओं को सुनकर दुख होता है कि मुसीबत के समय कभी भी परिवार या समाज का साथ नहीं छोड़ना चाहिए। हिन्दू धर्म के इसी कर्म का पालन आज संघ कर रहा है और समाज के सभी वर्ग को मदद पहुंचा रहा है।

देश और जनता के हितैषी तो लाखों लोग है जो चुनाव के समय ही नजर आते है। सरकार के खिलाफ आंदोलन करने वाले किसान नेता और तमाम संगठन भी खुद को जनता का नेता बताते है लेकिन आज इस बुरे दौर में कोई भी नजर नहीं आ रहा है सब लोग घरों में छिप गये या फिर विदेश यात्रा पर निकल गये है देश की जनता को इस बात का ध्यान जरूर रखना चाहिए कि कोरोना के संकट के समय कौन लोग है जो मदद कर रहे है और बाकी लोग छिपे है। समय पर इन सभी से सवाल जरूर करना चाहिए।

आपकी प्रतिक्रिया...