ओमिक्रॉन: फिर लॉकडाउन की तरफ बढ़ रहा देश

Continue Readingओमिक्रॉन: फिर लॉकडाउन की तरफ बढ़ रहा देश

महाराष्ट्र और दिल्ली इस बार भी कोरोना संक्रमण का मुख्य केंद्र बना हुआ है, और हर मिनट के हिसाब से संक्रमण बढ़ता जा रहा है। राजधानी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल खुद कोरोना के संक्रमण नहीं बच सके और उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आ गयी जबकि राज्य में 24 घंटे में…

कोरोना वायरस का चिंताजनक वैरिएंट ओमीक्रॉन

Continue Readingकोरोना वायरस का चिंताजनक वैरिएंट ओमीक्रॉन

इस ओमीक्रॉन वैरिऐंट में बड़ी संख्या में म्युटेशंस हैं जो किसी संक्रमण अथवा टीकाकरण के उपरांत विकसित उदासीनकारी यानी न्यूट्रलाइज़िंग एंटीबॉडीज़ और चिकित्सीय मोनोक्लोनल एंटीबॉडीज़ का विरोध कर सकते हैं। इसके स्पाइक प्रोटीन के विभेदन स्थल के आस- पास भी म्यूटेशन के समूह देखे जाते हैं। यह स्पाइक प्रोटीन वायरस को कोशिकाओं तक पहुंचाने में मदद करता है। कोरोना वायरस जितनी आसानी से कोशिकाओं में प्रवेश करते हैं उतनी ही तेजी से उनका उत्पादन भी होता है और उनकी संचारक क्षमता भी बढ़ जाती है।

ओमीक्रॉन वैरिऐंट के विरुद्ध फ़िलहाल विशेष वैक्सीन जरूरी नहीं

Continue Readingओमीक्रॉन वैरिऐंट के विरुद्ध फ़िलहाल विशेष वैक्सीन जरूरी नहीं

विश्व में निरंतर बढ़ते कोरोनावायरस के नए ओमीक्रॉन वैरिऐंट के मामलों ने एक चिंताजनक स्थिति पैदा कर दी है। आज दुनिया के 89 से अधिक देशों में ओमीक्रॉन वैरिऐंट का प्रसार हो चुका है। और भारत में भी ओमीक्रॉन  वैरिऐंट के संक्रमण के 136 मामले प्रकाश में आ चुके हैं।…

भारत ने रचा ‘वैक्सीन इतिहास’

Continue Readingभारत ने रचा ‘वैक्सीन इतिहास’

भारत के कई इलाकों विशेषतः गांवों में अभी भी अधिकांश लोग टीका लगवाने के लिए सहयोग नहीं कर रहे हैं। आज ऐसे लोगों के लिए जागरूकता अभियान चलाए जाने की जरूरत है। इसके अंतर्गत ऐसे लोगों को बताने की जरूरत है कि यह वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है इससे मृत्यु नहीं बल्कि होने वाली मौत से बचा जा सकता है और केवल कुछ ही लोगों में एक-दो दिन हल्के-फुल्के बुखार के अलावा कोई अन्य समस्या नहीं होगी।

कोरोना संकट और आत्मनिर्भरता 

Continue Readingकोरोना संकट और आत्मनिर्भरता 

इस कोरोना महामारी से भारत के लिए दो बड़े सबक हैं। पहला सभी मामलों में हम आत्मनिर्भर बने। दूसरा, जीवन रक्षक दवाओं के शोध व विकास पर ज्यादा ध्यान देना। कोरोना संकट न केवल हमारी स्वास्थ्य व्यवस्था को नया आकार देगा बल्कि हमारी अर्थव्यवस्था, राजनीति और संस्कृति को भी नए तरह से गढ़ेगा।

कोरोना वाइरस ने हमे क्या सिखाया

Continue Readingकोरोना वाइरस ने हमे क्या सिखाया

भगवान महावीर के अनुयायी आचार्य महाप्रज्ञजी ने आज से कुछ वर्षो पहले हि यह भविष्यवाणी की थी कि आनेवाले समय में तीसरा महायुध्द शस्त्रो से नही बाल्कि जीवानुओं से खेला जायेगा। सचमुच विश्व की आज की परिस्थिती देखते हुए इस महामारी को तीसरा विश्वयुद्ध कहना अतिशयोक्ती नहीं है। 21वी सदी,जहां…

End of content

No more pages to load