मनीष तिवारी की किताब से कांग्रेस में खलबली, मनमोहन सिंह के कामकाज पर उठाया सवाल

Continue Readingमनीष तिवारी की किताब से कांग्रेस में खलबली, मनमोहन सिंह के कामकाज पर उठाया सवाल

कांग्रेस के सितारे आजकर गर्दिश में चल रहें है शायद इसलिए ही अब उनकी ही पार्टी के नेता खुद पार्टी के लिए मुसीबत पैदा कर रहे हैं। नेताओं के विवादित बयान के साथ ही अब कांग्रेस में बुक बम का समय चल रहा है पार्टी के नेता एक के बाद…

जख्म भर जाएंगे, दर्द रह जाएंगे

Continue Readingजख्म भर जाएंगे, दर्द रह जाएंगे

एक का नाम तुषार शाह और दूसरे का नाम संदीप शाह। किसी को पता नहीं कि वे एक-दूसरे को जानते थे या कि सिर्फ दो अजनबी इनसान।

जिहादी हमला और छद्मयुद्ध

Continue Readingजिहादी हमला और छद्मयुद्ध

आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई यह राष्ट्नीय मुद्दा है। इसमें दलगत राजनीति को कोई स्थान नहीं है। फिर भी धमाकों के बाद कुछ राजनीतिक नेताओं के जिस तरह से बेतुके बयान आए उससे सर्कस के मसखरे की याद हो गई। लोगों का क्षणभर भले मनोरंजन हुआ हो, लेकिन इससे उनमें गुस्सा भी है।

धमाकों से आम मुसलमान भी उतना ही दु:खी

Continue Readingधमाकों से आम मुसलमान भी उतना ही दु:खी

जुलाई की मनहूस शाम को मुंबई बम धमाकों पर सारे देश की आवाज बनकर भारतीय मुसलमानों और उनके नेताओं ने गहरा शोक जताया।

मुंबई पर फिर जिहादी हमला – अगस्त २०११

Continue Readingमुंबई पर फिर जिहादी हमला – अगस्त २०११

चरमपंथी इस्लामिक जिहादी आतंकवादी हमला और छद्म युद्ध पर आवरण कथा प्रकाशित की गई है. इसमें जिहाद के तीन भागों अर्थात जिहादे असगर, जिहादे अकबर और जिहाद पर भी प्रकाश डाला गया है. इसके साथ ही जिहादी आतंकवाद के प्रति कांग्रेस की नरमी और आतंकवाद को भगवा रंग देने के षड्यंत्र को उजागर किया है.

End of content

No more pages to load