राजेंद्र परदेसी

जजिया

जजिया

‘‘अपने अधीनस्थ अधिकारियों की बात सुन कर शशांक का ईमानदारी से नौकरी करने का भ्रम टूट गया| वह उस दोराहे...

जजिया

जजिया

अपने अधीनस्थ अधिकारियों की बात सुनकर शशांक का ईमानदारी से नौकरी करने का भ्रम टूट गया। वह उस दोराहे पर...