अपंग कल्याणकारी शिक्षण संस्था ने मनाया स्वतंत्रता दिन अमृत महोत्सव

पुणे. वानवडी स्थित अपंग कल्याणकारी शिक्षण संस्था व संशोधन केंद्र में बड़े ही हर्षोल्लास के साथ ध्वजारोहण कर ७५ वां स्वतंत्रता दिन अमृत महोत्सव मनाया गया. इस दौरान संस्था के सेवानिवृत्त कर्मचारियों सहित कोरोना योद्धाओं का सम्मान किया गया. प्रमुख अतिथि के रूप में सेवा सहयोग फाउन्डेशन के अध्यक्ष व संचालक अतुल नागरस उपस्थित थे. इनके करकमलों द्वारा ध्वजारोहण किया गया. संस्था के सभी कर्मचारी व पदाधिकारियों ने राष्ट्रगीत गाकर ध्वज का वन्दन किया.

अतुल नागरस ने अपने संबोधन में कहा कि भारत हमारा प्राण प्रिय देश है. सभी नागरिक हमारे बंधू है. सामाजिक अज्ञान के कारण भ्रष्टाचार बढ़ता है उसे नैतिक शिक्षा द्वारा ही दूर किया जा सकता है. उन्होंने स्वातंत्र्य दिन की शुभकामनाएं देते हुए सभी से भ्रष्टाचार के विरुद्ध संकल्प लेने का आह्वान किया.

  • संस्था के सेवानिवृत्त कर्मचारियों सहित कोरोना योद्धाओं का हुआ सम्मान

संस्था के सेवानिवृत्त कर्मचारी भारती पवार, अशोक उत्तेकर, श्रीकांत नारायण भुसारी, अलका फुलावरे, मदतनीस का सम्मान अतुल नागरस के हाथों किया गया. इसके साथ ही चैतन्य दीक्षित (उप अभियंता-मनपा, पुणे), प्रदीप कुमार राउत (स्वास्थ्य निरीक्षक), कानिफनाथ नारायण पानसरे (सहायक पुलिस निरीक्षक), सीमा पुजारी (सहायक स्वास्थ्य निरीक्षक), दिनेश होले (अध्यक्ष-स्वामी विवेकानंद प्रतिष्ठान), डॉ. रुपेश शिंदे, प्रताप जाधव, अशोक श्रीराम गाडे, प्रेम सकटे, सतीश सुर्वे, स्वामिनी मोरे, श्रावणी मोरे, सुवर्णा काम्बले, श्री कृष्णा चव्हाण, सुहास मदनलाल (दिव्यांग कार्यकर्ता-‘सक्षम’ संस्था), रोहित डोंगरे, अनिल कंधारे, दत्ता लखे, इरफ़ान मोमिन सहित अन्य कोरोना योद्धाओं को संस्था की ओर से सम्मानित किया गया.

संस्था के कार्याध्यक्ष एड. मुरलीधर कचरे ने कार्यक्रम का प्रस्ताविक रखा. सचिव लता बनकर ने संस्था का परिचय दिया. उप कार्याध्यक्ष डॉ. सतीश जैन ने अतिथियों का स्वागत किया. मुख्याधिपिका शिवानी सुतार ने कार्यक्रम का सूत्र संचालन किया. लता यादव बनकर ने सभी का आभार माना. कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए संस्था के शिक्षकों सहित अन्य कर्मचारियों ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. वन्दे मातरम गीत गाकर कार्यक्रम का समापन किया गया.

आपकी प्रतिक्रिया...