महागठबंधन का सपना कांग्रेस मुक्त भारत

Continue Reading महागठबंधन का सपना कांग्रेस मुक्त भारत

एनसीपी जैसी एकाध क्षेत्रीय पार्टी के अलावा कांग्रेस को कोई साथ नहीं रखना चाहता। विपक्ष के महागठबंधन से यह बात साफ हो गई है कि क्षेत्रीय दल खुद ही कांग्रेस मुक्त भारत चाहते हैं।

डिसकवर द अर्जुन इन यू(अपने अंदर के अर्जुन को खोजो)

Continue Reading डिसकवर द अर्जुन इन यू(अपने अंदर के अर्जुन को खोजो)

भगवद् गीता को समय की सीमा में बांधा नहीं जा सकता। अर्थात इसकी प्रासंगिकता सार्वकालिक है। आवश्यकता इस बात की है कि समय के अनुरूप उसकी बार-बार व्याख्या की जाए। बाल गंगाधर तिलक ने इसकी व्याख्या अपने समय-परिस्थिति के अनुसार की तो ओशो ने अपन

ऊंटेश्वरी माता का महंत

Continue Reading ऊंटेश्वरी माता का महंत

ऊंटेश्वरी माता का महंत‘‘ यह पुस्तक पी.बी.लोमियो द्वारा हिंदी में लिखी गई है। पी.बी. लोमियो ‘‘पूवर क्रिश्चियन लिबरेशन मूवमेंट’’ के मुख्य सचिव हैं। यह किताब स्व. फादर एन्टोनी फर्नान्डीज की जीवन गाथा है।

विनाशकारी प्रजातियांएवं गंगा स्वच्छता

Continue Reading विनाशकारी प्रजातियांएवं गंगा स्वच्छता

गंगा मात्र एक पवित्र नदी ही नहीं है, वरन् यह आधे भारत वर्ष की आर्थिक जीवन रेखा भी है, इसीलिए इसका आर्थिक महत्व कहीं अधिक है। गंगा का मैदान दुनिया का सबसे अधिक उपजाऊ कृषि क्षेत्र है, जिससे उत्पन्न अनाज भारत की खाद्य समस्या का बहुत बड़ा समाधान है। अनेक वनस्पतियों एवं पशुओं के साथ-साथ गंगा का जल मछलियों की असंख्य प्रजातियों, उभयचरों की नब्बे प्रजातियों और गंगा में पाए जाने वाली डाल्फीन के लिए जीवन प्रदाता है।

सोशल मीडिया और सुरक्षा

Continue Reading सोशल मीडिया और सुरक्षा

अक्सर सुनने में आता है कि भारत का मानचित्र गलत दर्शाया गया। कश्मीर और अरुणाचल प्रदेश को भारत का हिस्सा नहीं दिखाया। इसका कारण है- गुगल। गुगल भारत का मानचित्र गलत दर्शाता है और अधिकांश भारतीयों को भारत का सही मानचित्र मालूम नहीं

दो देशों कीजनता का संगीत

Continue Reading दो देशों कीजनता का संगीत

ऐतिहासिक रूप से संगीत कूटनीति और नेतृत्व का महत्वपूर्ण भाग रहा है, किंतु जितने प्रभावशाली ढंग से प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने जापान में इसका उपयोग किया वैसा बहुत कम ही होता है।

सिंध को कौन बचाएगा?

Continue Reading सिंध को कौन बचाएगा?

सिंधी हिंदुओं ने सबसे पहले इस्लाम का आक्रमण झेला। मुस्लमान आक्रमणकारियों को सिंध के हिन्दूे 400 वर्षों तक हराते रहे। कुछ बौद्ध भक्तों ने इस्लामिक आक्रमणकारियों का साथ दिया और उसके फलस्वरूप सिंध के हिन्दुओं की हार हुई।

लोकसभा चुनावों के स्लोगन

Continue Reading लोकसभा चुनावों के स्लोगन

स्लोगन उन शब्द समूहों या वाक्यांशों को कहा जाता है जो राजनैतिक, व्यावसायिक, धार्मिक और अन्य संदर्भों में प्रयोग किए जाते हैं। ये मुख्यत: उत्पाद की ओर ध्यान आकर्षित करने के लिए बनाए जाते हैं। विज्ञापनों में स्लोगन का मुख्य लक्ष्य ग्राहक के दिमाग पर उस उत्पाद की छवि को अंकित करना होता है।

ब्रैण्ड की सफलता हमारी एजेन्सी की सफलता है

Continue Reading ब्रैण्ड की सफलता हमारी एजेन्सी की सफलता है

सुफरएज एडवर्टाइजिंग एजेन्सी की स्थार्फेाा वर्ष 1971 में हुई थी और आज इस कम्र्फेाी के दो कार्यालय मुंबई तथा बडोदरा में कार्यरत हैं। सुफरएज एडवर्टाइजिंग प्रा. लि. के संस्थाफक महेन्द्र शाह को अर्फेाी युवावस्था में ही यह फता चल गया था

सशक्ति करण के चार दशक

Continue Reading सशक्ति करण के चार दशक

साई एडवरटाइजर शायद भारत की पहली विज्ञापन एजेंसी है जो एक महिला श्रीमती गुलेशन पटेल द्वारा स्थापित की गई और चालीस वर्षों के बाद भी सफलतापूर्वक चल रही है।

End of content

No more pages to load