हिंदी विवेक प्रकाशित ‘तीर्थंकर भगवान महावीर’ विशेषांक का पुणे में विमोचन

Continue Readingहिंदी विवेक प्रकाशित ‘तीर्थंकर भगवान महावीर’ विशेषांक का पुणे में विमोचन

भगवान महावीर के २५५० वें निर्वाण वर्ष के उपलक्ष्य में हिंदी विवेक मासिक पत्रिका द्वारा प्रकाशित ‘तीर्थंकर भगवान महावीर’ विशेषांक का पुणे में विमोचन समारोह संपन्न हुआ. जैन तपस्वी उपाध्याय प. पू. प्रवीण ऋषि जी महाराज और रा. स्व. संघ के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख सुनील आंबेकर जी के करकमलों द्वारा विशेषांक का विमोचन किया गया. इस दौरान मंच पर हिंदुस्थान प्रकाशन संस्था के अध्यक्ष पद्मश्री रमेश पतंगे, हिंदी विवेक मासिक पत्रिका के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमोल पेडणेकर, हिंदी विवेक की कार्यकारी सम्पादक पल्लवी अनवेकर, सुहाना प्रवीण मसालेवाले के डायरेक्टर विशालकुमार राजकुमार चोरडिया, पोपटलाल ओसवाल एवं राजेंद्र बाठिया उपस्थित थे.

‘हिंदू’सूत्र से जुड़ा है हमारा समाज – डॉ. मोहन भागवत

Continue Reading‘हिंदू’सूत्र से जुड़ा है हमारा समाज – डॉ. मोहन भागवत

एक आक्रमण होने के बाद हम सावधान हो गए, ऐसा नहीं हुआ. पिछले २ हजार वर्षों में बारम्बार कोई न कोई आता है और हमें गुलाम बनाता है. हर बार हमने वहीँ गलती की. हर बार कोई घरभेदी (गद्दार) ही धोखा देता आया है, यह रोग हमारे मूल में है. इसका निदान हुए बिना देश सुरक्षित नहीं रह सकता. हम कौन और हमारे कौन? इस सम्बंध में देश में ज्ञान का अभाव है. ‘हिंदू’ सूत्र के आधार पर हम जुड़े हुए है. अपने धर्म-संस्कृति पर अडिग रहकर श्रेष्ठ आचरण करने पर अपनी चुनौतियों से पार पाते हुए हम विश्व को भी मार्ग दिखा सकते है. यह वक्तव्य पू. सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत ने साप्ताहिक विवेक द्वारा प्रकाशित ‘राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ – हिंदू राष्ट्र के जीवन उद्देश्य की क्रमबद्ध अभिव्यक्ति’ नामक ग्रंथ के विमोचन समारोह के दौरान दिया.

हिंदी विवेक कार्यालय में पधारे समाजसेवी सुधीर भाई गोयल

Continue Readingहिंदी विवेक कार्यालय में पधारे समाजसेवी सुधीर भाई गोयल

मध्य प्रदेश उज्जैन स्थित सेवाधाम आश्रम के प्रमुख सुधीर भाई गोयल मुंबई प्रवास के दौरान हिंदी विवेक कार्यालय में भी पधारे और हिंदी विवेक की टीम के साथ मुलाकात की. हिंदी विवेक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमोल पेडणेकर ने शोल ओढ़ाकर उनका स्वागत सम्मान किया और उनके उल्लेखनीय कार्यो से सभी को अवगत कराया. इसके बाद हिंदी विवेक की कार्यकारी सम्पादक पल्लवी अनवेकर ने हिंदी विवेक द्वारा प्रकाशित ‘सशक्त नेतृत्व, समर्थ भारत’ ग्रन्थ उन्हें भेंट स्वरूप प्रदान किया. अमोल पेडणेकर ने ‘राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एक विशाल संगठन’ नामक पुस्तक तथा ‘राम मंदिर अस्मिता से वैश्विक धरोहर तक’ विशेषांक उपहार के रूप में देकर वर्तमान समय में इसकी प्रासंगिकता को अधोरेखित किया.

आदर्श स्वयंसेवक प्रतिनिधि विलास मेस्त्री

Continue Readingआदर्श स्वयंसेवक प्रतिनिधि विलास मेस्त्री

हिंदी विवेक परिवार के सदस्य वसई-विरार के प्रतिनिधि विलास मेस्त्री का 15 दिसम्बर २०२३ को 75वां जन्मदिवस है. विवेक पत्रिका को आर्थिक साहयोग देने में उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. इस उपलक्ष्य में उनकी प्रेरक एवं आदर्श जीवन यात्रा का दर्शन इस लेख में दृष्टिगोचर होगा.

जौहरी का हीरा

Continue Readingजौहरी का हीरा

कहते हैं, हीरे की परख जौहरी ही कर सकता हैं। मनोहर पर्रिकर ने डॉ. प्रमोद सावंत को परख तो लिया ही था, परंतु अपनी मेहनत, लगन और कर्तव्यपरायणता से वे दिन - प्रतिदिन अधिक चमकते जा रह हैं। उनकी राजनैतिक यात्रा उनके गुरू को दी जा रही गुरुदक्षिणा के समान ही है।

पूर्व राज्यपाल पद्मनाभ आचार्य का स्वर्गवास

Read more about the article पूर्व राज्यपाल पद्मनाभ आचार्य का स्वर्गवास
The Union Minister for Human Resource Development, Smt. Smriti Irani meeting the Governor of Tripura, Shri Padmanabha Balakrishna Acharya, in New Delhi on August 29, 2014.
Continue Readingपूर्व राज्यपाल पद्मनाभ आचार्य का स्वर्गवास

राष्ट्रीय भावनाओं से प्रेरित हिंदी विवेक मासिक पत्रिका से वह आत्मीय भाव से जुड़े हुए थे. पूर्वोत्तर राज्यों में हिंदी विवेक पत्रिका के प्रचार एवं प्रसार हेतु उन्होंने अपनी महत्वपूर्व भूमिका अदा की थी. साथ में वहां हिंदी विवेक का अंक मिलता है या नहीं, इस पर भी उनका निरिक्षण रहता था. ईश्वर से प्रार्थना है कि उनकी आत्मा को शांति एवं सद्गति प्रदान करें, हिंदी विवेक परिवार की ओर से उन्हें भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित करते है.

नृत्य दिव्य कला है भावों की अभिव्यक्ति है

Continue Readingनृत्य दिव्य कला है भावों की अभिव्यक्ति है

नृत्य भावनाओं की वह अभिव्यक्ति हैं, जिसके लिए शब्दों की आवश्यकता नहीं होती। करने वाला और देखने वाला दोनों एक ही समय पर इस आनंद को महसूस कर सकते हैं। भारतीय संस्कृति में मुख्य रूप से शास्त्रीय नृत्य की आठ कलाएं हैं। इसके साथ विदेशों से आए नृत्य के कई प्रकार भारत में भी किए जाने लगे हैं। नृत्य चाहे कोई भी हो वह आनंद की अनुभूति करा कर आत्मा को आनंद विभोर करें, यही अंतिम लक्ष्य होता है। नृत्य के संदर्भ में इन्हीं विचारों का प्रस्तुतिकरण इस साक्षात्कार में किया गया हैं। प्रस्तुत है उसके प्रमुख अंश-

इंडस्ट्रियल विकास को गति देता टीआईए – सतीश शेट्टी

Continue Readingइंडस्ट्रियल विकास को गति देता टीआईए – सतीश शेट्टी

किसी शहर के सर्वांगीण विकास में वहां का इंडस्ट्रियल क्षेत्र महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन करता है। पनवेल के विकास में टीआईए उन्हीं कर्तव्यों की पूर्ति कर रहा है। संगठन के अध्यक्ष सतीश शेट्टी ने हिंदी विवेक के साथ हुए साक्षात्कार में सभी प्रमुख विषयों पर अपनी राय रखी।

पनवेल के आधार स्तम्भ दि. बा. पाटील

Continue Readingपनवेल के आधार स्तम्भ दि. बा. पाटील

पनवेल और नवी मुंबई की आम जनता के लिए जननेता दि.बा. पाटील ने उल्लेखनीय कार्य किया  है। यही कारण है कि  नवी मुंबई हवाई अड्डे को उनका नाम देने के लिए  रामशेठ ठाकुर के नेतृत्व में वहां की जनता ने सफल आंदोलन किया।

विश्व की वंडर सिटी होगी हमारी नवी मुंबई – संजीव नाईक

Continue Readingविश्व की वंडर सिटी होगी हमारी नवी मुंबई – संजीव नाईक

पिता ने शहर की नींव रखी और उसे विस्तार दिया, जबकि पुत्र संजीव नाईक ने नवी मुंबई शहर को आधुनिक एवं वैश्विक बनाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया। हिंदी विवेक के साथ साक्षात्कार के दौरान उन्होंने शहर के विकास-प्रवास पर विस्तार से अपना अभिमत रखा।

भाजपा और मिशन 2024

Continue Readingभाजपा और मिशन 2024

आपसी गुटबाजी और बाहरी लोगों को कमान देने के कारण पालघर में भाजपा की यह स्थिति हुई है। निर्णय लेने के सूत्र एक जाति विशेष में सिमट कर रह गए हैं। इस पर व्यापक तरीके से ध्यान देने की आवश्यकता है, ताकि वहां पर फिर से भगवा लहरा सके। भारतीय…

इंदौर की नींव में है संघ का योगदान

Continue Readingइंदौर की नींव में है संघ का योगदान

इंदौर शहर से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का बहुत पुराना नाता रहा है। श्रीगुरुजी ने अंग्रेजी शासन के दौरान यहां पर सभा की थी। शहर के विकास में संघ का योगदान भी अविस्मरणीय रहा है। कोरोना काल में यहां पर संघ के स्वयंसेवकों ने अपने घरों को लौट रहे प्रवासियों की…

End of content

No more pages to load