समूल नाश ही है अलगाववाद का स्थायी इलाज

Continue Readingसमूल नाश ही है अलगाववाद का स्थायी इलाज

पीएफआई की ही भांति देश की सीमा के भीतर बहुत सारे अलगाववादी संगठन अपने गलत कार्यों को अंजाम देने के लिए तत्पर हैं। सरकार उन पर अंकुश लगाने अथवा समूल सफाए के लिए दीर्घकालिक अभियान चला रही है, लेकिन ऐसे संगठनों के सदस्य अन्य नामों से नया संगठन खड़ा कर लेते हैं। साथ ही, इन्हें बाहरी देशों और अलगाववादी संगठनोें से भी लगातार सहायता मिलती रहती है।

खालिस्तान: विभाजन का वर्तमान हथियार

Continue Readingखालिस्तान: विभाजन का वर्तमान हथियार

वर्तमान में चल रही खालिस्तानी गतिविधियां और उसके प्रति पंजाब की आम आदमी पार्टी का दोहरा रवैया काफी खतरनाक है। ऐसा नहीं है कि पूरा सिख समाज उनके साथ है लेकिन पाकिस्तान और अन्य विदेशी शक्तियों के सहयोग से चल रहे इस आंदोलन पर लगाम लगाए जाने की आवश्यकता है ताकि ये विघटनकारी शक्तियां भविष्य में अलगाववाद के जहर को पूरे सिख समाज तक पहुंचा सकें।

कैसे गुलामों ने अपनी सरकार बना ली ?

Continue Readingकैसे गुलामों ने अपनी सरकार बना ली ?

आज फिजी गिरमिटि स्मृति दिवस है।इसी दिन सन् 1879 को प्रथम जहाज फिजी तट पर उतरा था। यह भारतवंशियों के गुलाम से गवर्मेंट बनने की भी कहानी है। इन गिरमिट हृदयों में भारत और रगों मे भारतीय खून है।हजारों किलोमीटर दूर रहते है फिर भी एक लघु भारत बसा बना…

पंजाब का पंचकोणीय मुकाबला

Continue Readingपंजाब का पंचकोणीय मुकाबला

अब तक का पंजाब चुनाव आप,कांग्रेस और अकाली केंद्रीत था। जिसे भाजपा कैप्टन और बागी अकाली गुट के साथ चतुष्कोणीय बना रही थी। वही अब किसान आंदोलन से निकले जाट सिख नेताओं का आगाज पंजाब के सियासी खेल को पंचकोणीय बनाता दिख रहा है।

बेअदबी, बर्बरता और वहशीपन

Continue Readingबेअदबी, बर्बरता और वहशीपन

कपूरथला बेअदबी जाँच की रिपोर्ट आ चुकी है। मृतक मानसिक विक्षिप्त था। वही षड्यंत्रकर्ता ग्रंथी के तार सीमा पार से जुड़े पाये गए है। मृतक आश्रय की तलाश में भटकता हुआ गुरुद्वारे चला आया था। बदले में उसे उन्मादियों ने नृशंस मौत दी।उसके शरीर पर तलवार द्वारा दिये गए करीब…

पंजाब का चुनावी गणित

Continue Readingपंजाब का चुनावी गणित

इधर भाजपा में आए दिन किसी न किसी महत्वपूर्ण सिख नेता का आगमन हो रहा है। पहले ही शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के महत्वपूर्ण पदाधिकारी मनजिंदर सिंह सिरसा भाजपा के हो चुके है। वही अब हरभजन और युवराज सिंह के आने की चर्चा फिजाओं मे तैर रही है किंतु पिछले चुनावों में कुल जमा दों सीट वाले भाजपा के लिए पंजाब अभी भी दूर की कौड़ी नजर आ रही है।

पंजाब में दलित देवों भव

Continue Readingपंजाब में दलित देवों भव

बीजेपी की राजनीति को भांप कर सबसे पहले कांग्रेस और बाद में अकाली दल और अब आम आदमी पार्टी ने भी पंजाब में अपनी रणनीति में आमूलचूल परिवर्तन की घोषणा की है। धनाढ्य जाट सिख वोट बैंक के सामने दलित सिख और हिन्दू वोट बैंक के गठजोड़ ने पंजाब की पुश्तैनी सियासत का मिजाज और चेहरा पूरी तरीके से बदल दिया है।

म्यांमार : योद्धा भिक्षु विराथु

Continue Readingम्यांमार : योद्धा भिक्षु विराथु

म्यांमार के बौद्ध भिक्षु विराथु को जेल से रिहाई मिली है।उन्हें खुली हवाओ में साँस लेने की यह आजादी उस वक़्त मिली है जब म्यांमार की सत्ता पर सेना का नियंत्रण है।यह सब कुछ ऐसे वक्त मे हुआ है जब यांगून के शासन पर लोकतंत्र हनन के गंभीर आरोप है।वही…

End of content

No more pages to load