युद्धपिपासु चीन की बोलती बंद होगी ?- अक्टूबर-२०२०

हिंदी विवेक के इस अंक में भारत –चीन तनाव पर आवरण कथा प्रकाशित की गई है. विस्तारवादी चीन पर अंकुश लगाने, उसे करारा जवाब देने, लद्दाख की सर्दी में भारतीय जांबाज सेना की तैनाती, मुस्तैदी, और भारती चीन संबंधों पर विस्तार से प्रकाश डाला गया है. इसके अलावा समसामयिक विषयों के साथ ही क्षात्रतेज जागृत करने का पर्व दशहरा, दीर्घदृष्टा दत्तोपंत ठेंगड़ी, लालबहादुर शास्त्री, महात्मा गाँधी पर विशेष आलेख प्रकाशित किये गए है. साथ ही अर्थव्यवस्था में सकारात्मक संकेत, डिजिटल खुफियागिरी का नया दांव, उमर खालिद दिल्ली दंगों की साजिश में शामिल, महाराष्ट्र की राजनीति, उत्तर प्रदेश का नया सुरक्षा कवच स्पेश्यल सिक्योरिटी फ़ोर्स, कोताही से बढ़ता कहर आदि उल्लेखनीय विषयों सहित रा.स्व.संघ के सह सरकार्यवाह मा. मनमोहन वैद्य जी और डॉ. राजेंद्र धमीजा जी का साक्षात्कार पाठकों के लिए आकर्षण के केंद्र है.

आपकी प्रतिक्रिया...