भारत भक्ति से भरा मन है ‘स्वामी विवेकानंद’

Continue Readingभारत भक्ति से भरा मन है ‘स्वामी विवेकानंद’

स्वामी विवेकानंद ऐसे संन्यासी हैं, जिन्होंने हिमालय की कंदराओं में जाकर स्वयं के मोक्ष के प्रयास नहीं किये बल्कि भारत के उत्थान के लिए अपना जीवन खपा दिया। विश्व धर्म सम्मलेन के मंच से दुनिया को भारत के ‘स्व’ से परिचित कराने का सामर्थ्य स्वामी विवेकानंद में ही था, क्योंकि…

ओमीक्रॉन वैरिऐंट के विरुद्ध फ़िलहाल विशेष वैक्सीन जरूरी नहीं

Continue Readingओमीक्रॉन वैरिऐंट के विरुद्ध फ़िलहाल विशेष वैक्सीन जरूरी नहीं

विश्व में निरंतर बढ़ते कोरोनावायरस के नए ओमीक्रॉन वैरिऐंट के मामलों ने एक चिंताजनक स्थिति पैदा कर दी है। आज दुनिया के 89 से अधिक देशों में ओमीक्रॉन वैरिऐंट का प्रसार हो चुका है। और भारत में भी ओमीक्रॉन  वैरिऐंट के संक्रमण के 136 मामले प्रकाश में आ चुके हैं।…

वनस्पति विज्ञान में ‘फादर ऑफ़ बॉटनी’ भारत के ऋषि पराशर

Continue Readingवनस्पति विज्ञान में ‘फादर ऑफ़ बॉटनी’ भारत के ऋषि पराशर

विश्व भर में वनस्पति विज्ञान के जनक के रूप में जिनका सम्मान के साथ नाम लिया जाता है वह ग्रीस के प्रसिद्ध दार्शनिक एवं प्रकृतिवादी ''थिओफ्रैस्टस'' हैं। जबकि अब इस संबंध में आया शोध बता रहा है कि विश्व में यदि सबसे पहले पादपों की पहचान कहीं हुई तो वह…

शाश्वत प्राकृतिक कृषि विज्ञान के जनक ऋषि पराशर

Continue Readingशाश्वत प्राकृतिक कृषि विज्ञान के जनक ऋषि पराशर

दुनियाँ के अन्य महाद्वीपों के लोग जब वर्षा, बादलों की गड़गड़ाहट के होने पर भयभीत होकर गुफाओं में छुप जाते थे, जब उन्हें एग्रीकल्चर का ककहरा भी मालूम नहीं था, उससे भी हजारों वर्ष पूर्व ऋषि पाराशर मौसम व कृषि विज्ञान पर आधारित आर्यावर्त के किसानों के मार्गदर्शन के लिए…

देश को अणुशक्ति की राह दिखाने वाले वैज्ञानिक डा. भाभा

Continue Readingदेश को अणुशक्ति की राह दिखाने वाले वैज्ञानिक डा. भाभा

भारत में परमाणु शक्ति का विकास करने वाले महान वैज्ञानिक डा. होमी जहांगीर भाभा का जन्म 30 अक्टूबर 1909 को मुम्बई के एक पारसी परिवार में हुआ था। वे न सिर्फ एक महान वैज्ञानिक थे अपितु चित्रकार और संगीतज्ञ भी थे। उनके पिता जे. एच. भाभा तत्कालीन बम्बई के प्रसिद्ध…

मिसाइल क्षेत्र में सफलता की महागाथा लिखता भारत

Continue Readingमिसाइल क्षेत्र में सफलता की महागाथा लिखता भारत

भारत ने अपनी सैन्य-शक्ति में वृद्धि करते हुए मिसाइल निर्माण के क्षेत्र में अग्नि-पांच का सफल परीक्षण किया है। सटीक निशाना दागने में सक्षम इस मिसाइल की मारक क्षमता पांच हजार किमी है। ओड़ीसा के एपीजे अब्दुल कलाम द्वीप से इस प्रक्षेपास्त्र को एक निश्चित निशाने पर दागा गया। रक्षा…

2 से 18 वर्ष के बच्चों को भी लगेगी वैक्सीन, जानिए कितने दिन का होगा अंतर ?

Continue Reading2 से 18 वर्ष के बच्चों को भी लगेगी वैक्सीन, जानिए कितने दिन का होगा अंतर ?

पूरे देश में वैक्सीन का काम बहुत ही तेजी से चल रहा है और लोग भी इसमें हिस्सा ले रहे हैं क्योंकि लोगों के सामने समस्या यह है कि अगर उनकी दोनों वैक्सीन की डोज़ पूरी नहीं होती है तो उन्हें बहुत सारे स्थानो पर प्रवेश नहीं दिया जायेगा। साथ…

युवाओं को क्यों पड़ रहा दिल का दौरा (Heart attack)

Continue Readingयुवाओं को क्यों पड़ रहा दिल का दौरा (Heart attack)

आप ने अक्सर देखा होगा कि एक युवा जो पूरी तरह से फिट नजर आता है जिम कर के उसकी बॉडी भी शानदार नजर आती है फिर अचानक से एक दिन पता चलता है कि उसे दिल का दौरा पड़ा और उसकी मौत हो गयी जबकि हमारी पहले से यह…

क्या शुरु हो गयी कोरोना की तीसरी लहर?

Continue Readingक्या शुरु हो गयी कोरोना की तीसरी लहर?

कोरोना को लेकर आंकड़े अब डराने वाले आने लगे है, शुक्रवार को कोरोना संक्रमित लोगों का नंबर अचानक से बढ़ा हुआ नजर आया। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी किये गये आंकड़ों में करीब 45 हजार नए लोग संक्रमित पाए गए और इसी के साथ कुल संक्रमित लोगों की…

ISRO-GSLV-F10 लांच होता तो मिलती बाढ़, चक्रवात व सीमा की सही जानकारी

Continue ReadingISRO-GSLV-F10 लांच होता तो मिलती बाढ़, चक्रवात व सीमा की सही जानकारी

भारत के वैज्ञानिकों के लिए गुरुवार का दिन असफलता के नाम रहा। इसरो की तरफ से लांच की गयी सैटेलाइट फेल हो गयी और इसरो एक नया रिकॉर्ड बनाने से चूक गया। ISRO की तरफ से जानकारी दी गयी कि, गुरुवार सुबह 5:43 बजे GSLV-F10 रॉकेट को लॉच किया गया वह…

भयभीत न हों लेकिन सतर्क तो हो जाएं..

Continue Readingभयभीत न हों लेकिन सतर्क तो हो जाएं..

पिछले कुछ महीनों से देश के वैज्ञानिक और चिकित्सा विशेषज्ञ लगातार यह आशंका व्यक्त कर रहे हैं कि अगस्त में कोरोना की तीसरी लहर देश के अनेक हिस्सों में अपना असर दिखा सकती है। केरल , कर्नाटक, तमिलनाडु सहित कुछ दक्षिणी राज्यों में कोरोना संक्रमण के मामलों में अचानक आई…

बदलाव के वाहक बनते ग्रामीण आविष्कारक

Continue Readingबदलाव के वाहक बनते ग्रामीण आविष्कारक

उद्यमिता विकास के लिए कार्य-संस्कृति, अंतर-संरचना और कानून-व्यवस्था में बड़े बदलाव लाने होंगे, बल्कि युवाओं को आरक्षण आंदोलन और सरकारी या कंपनियों की नौकरी का मोह भी छोड़ना होगा। तभी युवा उद्यमियों की सोचने-विचारने की मेधा प्रखर होगी और किसी आविष्कार को साकार रूप देने के लिए कल्पना-शक्ति विकसित होगी।

End of content

No more pages to load