वस्त्र परंपरा तथा उद्योग- नवम्बर- २०२०

विगत ११ वर्षों से हिंदी विवेक मासिक पत्रिका द्वारा दीपावली के उपलक्ष्य में विभिन्न राष्ट्रीय महत्वपूर्ण विषयों पर विशेषांक प्रकाशित करने की विशिष्ट परंपरा रही है. उसी के अनुरूप वर्ष २०२० में भी ‘वस्त्र परम्परा तथा उद्योग’ पर आधारित दीपावली विशेषांक प्रकाशित किया गया है. भारतीय संस्कृति में वेशभूषा का महत्व, अध्यात्म का वरदान भारतीय परिधान, वस्त्र और विचार, विश्व बाजार में उभरता भारतीय वस्त्र उद्योग, ग्रामोद्योग से वैश्विक उद्योग, वस्त्रोद्योग का इतिहास, वर्तमान और भविष्य, निवेश के अवसर, सरकार की कल्याणकारी योजनाएं, आत्मनिर्भर भारत में वस्त्रोद्योग की भूमिका, वस्त्र उद्योग जगत की चुनौती, समस्याएं, अवसर और संभावनाएं आदि अनेक महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर विस्तार से प्रकाश डाला गया है.

केन्द्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी और वस्त्र उद्योग से जुड़े उद्योगपति महेश पटोदिया तथा विकास खेतान का साक्षात्कार इस विशेषांक को परिपूर्ण समृद्धि प्रदान करता है. इसके अलावा रा.स्व.संघ के सर संघचालक डॉ. मोहन भागवत जी का राष्ट्र, धर्म, समाज और वर्तमान परिस्थिति एवं चुनौतियों जैसे गंभीर विषयों पर पर लिया गया साक्षात्कार इस विशेषांक में आकर्षण का केंद्र है. रा.स्व.संघ के सह सरकार्यवाह मनमोहन वैद्य जी का ‘हमारा पुरुषार्थ जागेगा’ शीर्षक से प्रकाशित आलेख और सम्पादकीय बेहद प्रासंगिक है.

आपकी प्रतिक्रिया...