ऑपरेशन ‘देवी शक्ति’

Continue Readingऑपरेशन ‘देवी शक्ति’

यह नाम ‘ऑपरेशन देवी शक्ति’ इसलिए रखा गया क्योंकि जैसे ‘मां दुर्गा’ राक्षसों से बेगुनाहों की रक्षा करती हैं, उसी प्रकार इस मिशन का लक्ष्य बेकसूर नागरिकों को तालिबान के आतंकियों की हिंसा से रक्षा करना है। यह ऑपरेशन वायुसेना की भूमिका और तालिबानियों की निर्ममता पर एक साथ टिप्पणी है।

शरणार्थी संकट या षड्यंत्र?

Continue Readingशरणार्थी संकट या षड्यंत्र?

दुनिया सकते में है कि इस संकट का मुकाबला कैसे करें? लेकिन क्या सच में यह शरणार्थी संकट है या फिर एक गहरा षड्यंत्र? कुछ वर्षो बाद फिर किसी अन्य इस्लामिक देश में ऐसा ही कुछ घटनाक्रम हो, तो आश्चर्य मत कीजिएगा क्योंकि ऐसा ही होगा।

यही दृश्य उम्मीद की किरण है

Continue Readingयही दृश्य उम्मीद की किरण है

इस समय जिस तरह का जन प्रदर्शन अफगानिस्तान में हो रहा है, उसकी कल्पना शायद ही किसी को रही हो। ‘हमें काबुल से लेकर कई शहरों में आजादी चाहिए। अल्लाहू अकबर, हमें एक मुल्क चाहिए। हमें पाकिस्तान की कठपुतली सरकार नहीं चाहिए।’ ‘पाकिस्तान, अफगानिस्तान छोड़ो’ जैसे नारे लगते हुए दृश्य हमारे सामने आ रहे हैं। सोशल मीडिया पर वायरल कुछ वीडियो में लोगों को ‘राष्ट्रीय प्रतिरोध मोर्चा ज़िंदा रहो’ और पाकिस्तान विरोधी नारे लगाते हुए सुना जा सकता है।

बुर्का और बंदूक के बीच तड़पता अफगानिस्तान!

Continue Readingबुर्का और बंदूक के बीच तड़पता अफगानिस्तान!

अफगानिस्तान में तेजी से सब कुछ बदल रहा है इस बदलाव की ना तो किसी को उम्मीद थी और ना ही किसी ने ऐसा सोचा था कि एक दिन अफगानिस्तान आतंकियों के हाथों में आ जाएगा। वह लोग अपने आप को बहुत ही खुश नसीब मान रहे हैं जो वहां से…

अफगानिस्तान सरकार में प्रधानमंत्री से लेकर प्रवक्ता तक सभी आतंकी

Continue Readingअफगानिस्तान सरकार में प्रधानमंत्री से लेकर प्रवक्ता तक सभी आतंकी

अफगानिस्तान पर तालिबानी आतंकियों ने पूरी तरह से कब्जा कर लिया और अब सरकार बनाने का काम भी करीब करीब पूरा हो चुका है जिसे संयुक्त राष्ट्र ने अभी तक आतंकियों की लिस्ट में शामिल किया था वह लोग अब अफगानिस्तान की सरकार में कैबिनेट मंत्री बनाए जा रहे है।…

तालिबान और भारत के तथाकथित सेक्युलर

Continue Readingतालिबान और भारत के तथाकथित सेक्युलर

कल्पना कीजिए अगर किसी हिन्दू संगठन ने ऐसा किया होता तो देश के सेक्युलर बुद्धिजीवियों ने कैसा रुदन मचा दिया होता? आज इन बुद्धिजीवियों और तुष्टिकरण की राजनीति के झंडावरदारों को अफगानी महिलाओं और बच्चों पर हो रहा बर्बर अत्याचार नजर नहीं आ रहा है क्योंकि वहां उनकी सेलेक्टिव सेक्युलरिज्म की थ्योरी फिट बैठती है।

अफगानिस्तान की हलचल का भारत पर प्रभाव

Continue Readingअफगानिस्तान की हलचल का भारत पर प्रभाव

अफगानिस्तान में तालिबान का वर्चस्व स्थापित हो चुका है। राष्ट्रपति अशरफ गनी, उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह और उनके सहयोगी देश छोड़कर चले गए हैं।

भारत को बचना होगा तालिबानी सोच से

Continue Readingभारत को बचना होगा तालिबानी सोच से

अफगानिस्तान के पड़ोसी देशों में भारत ही एक ऐसा देश है जहाँ अफगानिस्तान के लोग शरणार्थी बनकर जा सकते हैं। क्योंकि पाकिस्तान की हालत किसी से छुपी नही है और चीन सांस्कृतिक दृष्टि से और सीमाओं की दूरी की दृष्टि से अफगानिस्तान से इतना दूर है कि वहां जाना अफगानिस्तान के लोगों को नहीं सुहाएगा। ऐसे में उन्हें भारत आना ही सबसे आसान लगेगा।

तालिबान का कब्जा, पाक की जीत और भारत की हार कैसे हुई?

Continue Readingतालिबान का कब्जा, पाक की जीत और भारत की हार कैसे हुई?

पाकिस्तान के हिस्से में जीत और इज्जत बहुत ही कम नसीब होती है हालांकि समय समय पर पाकिस्तान खुद से इसका अनुभव करता रहता है। अफगानिस्तान में मचे बवाल के बाद अब पाकिस्तान भी उसमें अपनी हिस्सेदारी आतंकियों के साथ बता रहा है और यह होगा भी क्यों नहीं पाकिस्तान…

पाकिस्तान के शेखचिल्ली के सपने, तालिबान से कश्मीर जीतने की उम्मीद

Continue Readingपाकिस्तान के शेखचिल्ली के सपने, तालिबान से कश्मीर जीतने की उम्मीद

पाकिस्तान को यह बात समझनी चाहिए कि भारत सैन्य ताकत इतनी है कि वह अफगानिस्तान और पाकिस्तान से एक साथ में युद्ध कर सकता है। 

राष्ट्र विरोधी नारेबाजी में 4 पर रासुका, मंत्री ने दी तालिबान जाने की सलाह

Continue Readingराष्ट्र विरोधी नारेबाजी में 4 पर रासुका, मंत्री ने दी तालिबान जाने की सलाह

एक समय था जब जम्मू कश्मीर में पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगते थे लेकिन यह नारा अब धीरे धीरे देश के कई राज्यों तक पहुंच चुका है। ताजा मामला मध्य प्रदेश से सामने आया है जहां पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाते कुछ लोग नजर आए। हालांकि पुलिस ने…

End of content

No more pages to load