सत्य घटना पर आधारित फिल्में

Continue Reading सत्य घटना पर आधारित फिल्में

फिल्म निर्माण के क्षेत्र में सबसे मुश्किल अगर कुछ है तो वो है, सत्य घटना पर आधारित फिल्मों का निर्माण करना। क्योंकि उसमें सिर्फ सत्य घटना ही दिखानी नहीं होती वरन उस सद सत्य घटना पर आधारित फिल्म बन सकती है यह विश्वास निर्माण होने के बाद अन्य कई बातें होती हैं। जैसे उस सत्य घटना का कितना हिस्सा फिल्म के लिए उपयोगी होगा, उसमें गाने और कॉमेडी सीन इत्यादि फिल्मी मसाले कितने मिलाए जाएं आदि-आदि।

बिहार की नई बयार अंदेशों भरी

Continue Reading बिहार की नई बयार अंदेशों भरी

नितीश कुमार और लालू प्रसाद यादव के नेतृत्व में बिहार में         महागठबंधन को तीन चौथाई से कुछ ही कम सीटों का बहुमत देने वाला जनादेश भाजपा की अगुआई वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के लिए भले अप्रत्याशित रहा हो लेकिन यह कोई बहुत बड़ा रहस्य नहीं है। वैसे दिल्ली में बैठे विश्लेषकों तथा चुनाव विशेषज्ञों को ‘विकास बनाम जंगल राज’ में काफी दम दिख रहा था और फिर मतदान के पहले हुए तमाम जनमत सर्वेक्षणों में भी विकास के एजेंडे पर मैदान में उतरे राजग की बढ़त का रूझान सामने आया था।

राष्ट्रीय स्मारक

Continue Reading राष्ट्रीय स्मारक

      इंदू मिल की भूमि पर डॉ बाबासहब अम्बेडकर का भव्य राष्ट्रीय स्मारक बनने वाला है। देश की ओर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इंदू मिल की सारी जमीन डॉ. बाबासाहब अम्बेडकर के राष्टर्रीय स्मारक को दी है। यह एक अत्यंत उपयुक्त निर्णय है। अत:सभी को उसका अंत:करण से स्वागत करना चाहिये।

पेरिस हमला कारण, प्रभाव तथा निदान

Continue Reading पेरिस हमला कारण, प्रभाव तथा निदान

      पेरिस में हुए आतंकवादी हमले को २४ घंटे भी नहीं बीते और तुर्किस्तान में इसिस का आत्मघाती हमला हुआ। दक्षिण तुर्की में आत्मघाती हमला करने वाले चारों आंतकवादियों को खत्म कर देने में स्थानीय पुलिस सफल रही। जी-२ परिषद के एक दिन पहले इसिस का यह आत्मघाती हमला हुआ। उसमें चार पुलिस वाले भी घायल हुए। उसके बाद पुलिस बल द्वारा आंतकवादियों के संदेहास्पद अड्डों पर छापे की कार्यवाही की गई। 

वैश्‍विक वर्चस्व की स्वार्थी लड़ाई

Continue Reading वैश्‍विक वर्चस्व की स्वार्थी लड़ाई

रूस के प्रवासी हवाई जहाज को क्षेपणास्त्र का प्रयोग करके मार गिराया गया। इसमें लगभग २२० यात्री मारे गए। इस भयानक हत्याकांड की जिम्मेदारी इसिस ने ली है। फ्रांस के पेरिस में भी इसिस ने हमला करके लगभग १२५ से अधिक लोगों की नृशंसता से हत्या की है। इस हमले से इसिस ने पूरी दुनिया खौफ का वातावरण निर्माण के दिया है।

सहिष्णुता पर वामपंथियों का घमासान

Continue Reading सहिष्णुता पर वामपंथियों का घमासान

आजकल देश में सहिष्णुता पर वैचारिक घमासान मचा हुआ है   इसे देखकर मुझे अचानक महाभारत में कर्ण अर्जुन के बीच युध्द की कथा का स्मरण हुआ। कर्ण के रथ का पहिया कीचड़ में धंस गया, कर्ण जैसे ही उस पहिये को कीचड़ के बाहर निकालने रथ से उतरा, तब कृष्ण ने अर्जुन से कहा ‘‘अर्जुन धनुष पर बाण चढ़ा तथा कर्ण को समाप्त कर दे

लौटाने जैसा, क्या लौटाएंगे?

Continue Reading लौटाने जैसा, क्या लौटाएंगे?

         कहावत है - ’ माल ए मुफ्त, दिल ए बेरहम। ’ मोटा-मोटा     अर्थ हुआ कि इंसान मुफ्त की चीज़ की कीमत नहीं करता। उनकी कोई किताब प्रतिबंधित नहीं हुई है। किसी फिल्म पर बैन नहीं लगा ह|ै फिर भी उन्हें अभिव्यक्ति की आज़ादी ढूंढे से नहीं मिल रही है। वे रात दिन सरकार के खिलाफ अनाप-शनाप बातें बिना किसी प्रमाण के कहे जा रहे हैं; लेकिन उन्हें शिकायत है कि भारत में बोलने की आज़ादी अचानक समाप्त कर दी गई है।

दृष्टि और व्याप्ति ‘‘हिंदू समाज के ’जागरण’ की प्रक्रिया के मूल में

Continue Reading दृष्टि और व्याप्ति ‘‘हिंदू समाज के ’जागरण’ की प्रक्रिया के मूल में

 प. पू. बालासाहब का कार्य निश्चित रूप से है, यह मेरी राय है। मूल्यों की एक ताकत होती है और बालासाहब इस ताकत को बेहतर ढंग से जानते थे। ...चाहे सेवा कार्य हो, वनवासी कल्याण के कार्य हो, समरसता का कार्य हो- बालासाहब ने एक नई दृष्टि दी। इसके सुपरिणाम आज दिखाई दे रहे हैं।’’

मुकुंदजी, यूं बिना बताये कैसे चले गए….

Continue Reading मुकुंदजी, यूं बिना बताये कैसे चले गए….

मुकुंदजी, आप इस तरह बिना बताएचले गए! यह आपने ठीक नहीं किया। अचानक विदा लेना आपका स्वभाव नहीं था। आप जब भी मिले, बड़ी प्रसन्नता से, हंस कर कहते- ‘‘रमेश, कैसे हो? क्या हो रहा है?

  यह नहीं कहते तोप से क्या फैला?

Continue Reading   यह नहीं कहते तोप से क्या फैला?

हाल ही में पोप फ्रांसिस ने अमेरिका और लैटिन अमेरिका में अपनी बहुचर्चित यात्रा के दौरान उपनिवेश काल में अमेरिका में मूल निवासियों के खिलाफ किए अत्याचारों में रोमन कैथलिक चर्च की भूमिका के लिए माफी मांगी। उन्होंने कहा, कुछ लोगों की यह बात सही है कि पोप जब उपनिवेशवाद की बात करते हैं

सफल जीवन का मंत्र है-गीता

Continue Reading सफल जीवन का मंत्र है-गीता

कुछ दिन पहले मुंबई के एक प्रतिष्ठित अंग्रेजी दैनिक इकोनॉमिक  टाइम्स में विलियम डी कोहन की एक रिपोर्ट छपी थी, जिसमें उन्होंने अमेरिका के वालस्ट्रीट में बड़े वित्तीय संस्थानों में काम कर रहे नौजवानों में बढ़ रही आत्महत्या की प्रवृत्तियों का वर्णन किया था।

 भगवान श्री दत्तात्रेय एवं उनके अवतार

Continue Reading  भगवान श्री दत्तात्रेय एवं उनके अवतार

भगवान श्री दत्तात्रेय का नाम आते ही    आंखों के सामने उनका तीन सिर एवं छः हाथों वाला चेहरा आ जाता है। भक्तों पर असीम कृपा एवं करूणामय दृष्टि रखने वाले श्री दत्तात्रेय के विषय में महाराष्ट्र के बाहर एवं मराठी भाषिक लोगों को छोड़ कर सीमित जानकारी है। भगवान श्री दत्तात्रेय पर अगाध श्रध्दा रखने वाले भी यह कम ही जानते हैं कि भगवान श्री दत्तात्रेय की लीलाएं उनके मूल रूप द्वारा न की जाकर अवतार कार्यों के माध्यम से की गई हैं।

End of content

No more pages to load